जान जोखिम में डालकर इस पुल को पार करतें हैं लोग

जान जोखिम में डालकर इस पुल को पार करतें हैं लोगgaonconnection

शाहजहांपुर। मुख्यालय से उत्तर दिशा की ओर तहसील पुवायां से लगभग आठ किमी दूर पुवायां खुटार मार्ग में भैंसी नदी पर बना यह पुल जिसके ऊपर लकड़ी के स्लीपरों पर लोहे की चादरें लगाकर जान जोखिम में डालकर उस पर से आने-जाने के लिए मजबूर हैं।

क्षेत्रीय लोग यह पुल काफी पुराना औऱ अत्यन्त जीर्ण-शीर्ण अवस्था में जिसकी वजह से कभी भी कोई गम्भीर हादसा हो सकता है। इस पुल की मरम्मत के नाम पर आए दिन लाखों रुपया खर्च किया जाता है परन्तु प्रशासन की ओर से अब तक नये पुल के निर्माण की कोई जानकारी नहीं मिली है। जबकि इस पुल के टूट जाने से शाहजहांपुर से खुटार, पूरनपुर, मैलानी, पलिया, दुधवा नेशनल पार्क जाने का कोई भी रास्ता शेष नहीं बचेगा। 

गाँव ललुआपुर निवासी महेन्द्रपाल सिंह यादव बताते हैं, “क्षेत्र के लोगों ने कई बार अधिकारियों और क्षेत्रीय नेताओं से नये पुल के निर्माण के बारे में कहा परन्तु चुनाव के बाद इस ओर कोई ध्यान नहीं देता। जिला प्रशासन भी किसी गम्भीर घटना घटने का इंतजार कर रहा है और शायद किसी गम्भीर घटना घट जाने के बाद ही जिला प्रशासन और क्षेत्रीय नेताओं का नए पुल के निर्माण की ओर ध्यान जायेगा और भुक्तभोगियों के यहां घड़ियाली आंसू बहाने पहुंच जाएंगे और सरकार से मुआवजा दिलवाने और तुरन्त नए पुल बनवाने के नाम पर अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकना शुरू कर देंगे परन्तु अभी न सरकार का इस ओर कोई ध्यान है और न कोई क्षेत्रीय नेताओं का। जनहित में इस भैंसी नदी पर नए पुल का निर्माण अत्यन्त आवश्यक है।” 

Tags:    India 
Share it
Top