जेटली को जीएसटी विधेयक मानसून सत्र में पारित होने की उम्मीद

जेटली को जीएसटी विधेयक मानसून सत्र में पारित होने की उम्मीदgaonconnection

तोक्यो (भाषा)। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज विश्वास जताया कि लंबे समय से अटका वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) विधेयक संसद के मानसून सत्र में पारित हो जाएगा। उन्होंने कहा कि लगभग हर राजनीतिक दल इसका समर्थन कर रहा है।

वे निक्कई इंक द्वारा आयोजित ‘फ्यूचर ऑफ एशिया' सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। जेटली ने कहा जीएसटी विधेयक संसद के निचले सदन यानी लोकसभा द्वारा पहले ही पारित हो चुका है। यह संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा में लंबित है जहां सरकार के पास बहुमत नहीं है।

विपक्षी दल कांग्रेस का नाम लिए बिना ही उन्होंने कहा कि एक दल को कुछ प्रावधानों पर कुछ आपत्तियां हैं। हम उनसे संवाद तथा यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं कि उन्हें भी इसमें सहमत किया जाए।

उन्होंने कहा, ''संसद के आगामी सत्र को लेकर मैं बहुत आशावान हूं, जीएसटी  सुधार आगे बढ़ेंगे। अगर यह पारित हो जाता है तो इसके साथ ही निकट भविष्य में दूसरे समर्थनकारी विधेयकों को पारित कर इसको अमल में लाने की संभावनायें काफी उंची होंगी।'' जेटली ने कहा कि वे मानते हैं कि भारत में सुधार एक सतत प्रक्रिया है। उन्होंने कहा, ''जहां तक सुधारों का सवाल है तो कोई अंतिम (फिनिशिंग) सीमा नहीं है। विधेयकों व कार्यकारी कदमों के लिए अनेक पहलें की जानी हैं और यह दिशा लगातार कायम रखी जाएगी।

जीएसटी को देश में अप्रत्यक्ष काराधान के लिए सबसे बड़ा सुधार कहा जा रहा है। इसके पारित होने के बाद भारत सकल रुप से एक साझा बाजार बन जाएगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top