जल्द ही आक्सीजन सिलेंडर लेकर चलना होगा: NGT

जल्द ही आक्सीजन सिलेंडर लेकर चलना होगा: NGTgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने सोमवार एक सड़क परियोजना के लिए एक वन क्षेत्र को साफ करने के बाद एक भी पेड़ नहीं लगाने के लिए हिमाचल प्रदेश के अधिकारियों की खिंचाई करते हुए तल्ख टिप्पणी की, “वह समय दूर नहीं जब लोगों को आक्सीजन सिलेंडर लेकर चलना होगा।” 

NGT प्रमुख स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने पर्यावरण नुकसान पर चिंता जताते हुए कहा, “आधा देश बाढ़ का सामना कर रहा है और आधा देश सूखे का। शिमला का तापमान बढ़ रहा है। हमें एक पेड़ दिखाइए जो आपने लगाया है। क्या सड़क आपको आक्सीजन देगी? पेड़ हमें आक्सीजन देते हैं।”  पीठ ने कहा, “लोग बीमार पड़ रहे हैं। वह समय दूर नहीं जब लोगों को आक्सीजन सिलेंडर लेकर चलना होगा।” पीठ ने कहा कि इस अहम मुद्दे को लेकर ‘कोई भी चिंतित’ नहीं है और संबंधित अधिकारी हमें ऐसी एक भी तस्वीर दिखाने में नाकाम रहे जहां पेड़ लगाए गए।

जब राज्य की ओर से पेश वकील ने पीठ को बताया कि परियोजना राष्ट्रीय महत्व की है तो पीठ ने कहा, “हम देख चुके हैं कि राष्ट्र हित क्या है। एक लाख पड़े लगाइए और फिर हमारे पास आइए।” पीठ ने कहा कि वह 11 अगस्त को इस मामले को सुनेगी। अधिकरण ने इससे पहले हिमाचल प्रदेश में परवानू से शोघी तक पेड़ काटे जाने से जुड़े मामले पर स्वत: संज्ञान लिया था। NGT ने वन संरक्षक को हलफनामा दायर करके इस क्षेत्र में काटे गये पेड़ों की संख्या के बारे में बताने का निर्देश दिया था तथा राज्य सरकार और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से इस मुद्दे पर अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top