जल्द ही कानपुर में भी दौड़ेगी मेट्रो

जल्द ही कानपुर में भी दौड़ेगी मेट्रो

कानपुर/लखनऊ। कानपुर वासियों को जल्द मेट्रो की सौगात मिलने वाली है। मुख्य सचिव ने मेट्रो के निर्माण का कार्य जल्द शुरू करवाने के निर्देश दिए हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन ने निर्देश दिये हैं कि कानपुर नगरवासियों को बेहतर यातायात सुविधा उपलब्ध कराने को मेट्रो का निर्माण कार्य आगामी वर्ष 2016 के जनवरी माह से अवश्य प्रारम्भ कराने हेतु आवश्यक कार्यवाही प्राथमिकता से सुनिश्चित की जाये। उन्होंने बताया कि कानपुर नगर में मेट्रो लगभग 33 किलोमीटर में दो कारिडोर में बनाने का प्रस्ताव विचाराधीन है। प्रथम कारिडोर में लगभग 24 किलोमीटर का मार्ग तय किया गया है। ये आईआईटी से कल्याणपुर, रावतपुर, मोतीझील, नवीन मार्केट, बड़ा चौराहा, फूलबाग, कानपुर सेन्ट्रल रेलवे स्टेशन, झकरकटी बस टर्मिनल होते हुए नौबस्ता तक जाएगा। दूसरे कारिडोर में लगभग नौ किलोमीटर मार्ग का निर्माण कराया जाएगा। ये मार्ग कृषि विश्वविद्यालय से रावतपुर, काकादेव, विजयनगर चौराहा होते हुए बर्रा-8 तक जाएगा।

शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में कानपुर मेट्रो परियोजना की प्रस्तुतीकरण पर मुख्य सचिव ने लखनऊ मेट्रो के प्रबन्ध निदेशक को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि आम नागरिकों की यातायात की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए सर्वप्रथम आईआईटी कानपुर से झकरकटी बस स्टेशन तक निर्माण कार्य प्राथमिकता से किया जाए। उन्होंने कानपुर नगरवासियों को यथाशीघ्र यातायात की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कानपुर विकास प्राधिकरण एवं हाउसिंग बोर्ड सहित अन्य संस्थाओं को भी आवश्यक धनराशि उपलब्ध कराने हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कानपुर मेट्रो इस प्रकार से प्लान की जाये कि आगामी 50 वर्ष तक बगैर किसी असुविधा के कानपुर शहर के यातायात को बेहतर सुविधा उपलब्ध हो। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि कानपुर मेट्रो के समस्त स्टेशनों पर साइकिल, स्कूटर, ऑटो कार और बसों के लिए समुचित पार्किंग की व्यवस्था अवश्य हो।

13 हजार करोड़ रुपए का आएगा खर्च
राइट्स लिमिटेड के समूह महाप्रबन्धक पीयूष कंसल ने कानपुर मेट्रो परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट का प्रस्तुतीकरण करते हुए बताया कि परियोजना रिपोर्ट कानपुर विकास प्राधिकरण एवं एलएमआरसी के सहयोग से तैयार की गई है। इस परियेाजना में लगभग 13 हजार 400 करोड़ रुपए का व्यय अनुमानित है। उन्होंने बताया कि कानपुर मेट्रो परियेाजना में प्रथम कारिडोर में 15 किलोमीटर उपरिगामी मार्ग में 14 मेट्रो स्टेशन और नौ किलोमीटर भूमिगत मार्ग में आठ स्टेशन होंगे। द्वितीय कारिडोर में नौ किलोमीटर में 4.50 किलोमीटर में पांच उपरिगामी मेट्रो स्टेशन और 4.50 किलोमीटर भूमिगत में चार मेट्रो स्टेशन प्रस्तावित हैं। उन्होंने बताया कि सभी 32 मेट्रो स्टेशनों पर यात्रियों के लिए आने जाने और स्टेशन के अन्दर सभी समुचित व्यवस्थाएं प्रस्तावित की गई हैं। उन्होंने बताया कि कानपुर मेट्रो का किराया लखनऊ मेट्रो की तरह ही रहेगा।

Tags:    India 
Share it
Top