जल्द मिलेगा काशी में हैंडीक्राफ्ट को बाज़ार

जल्द मिलेगा काशी में हैंडीक्राफ्ट को बाज़ारगाँव कनेक्शन

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकता वाले ट्रेड फेसिलिटेशन सेंटर से अब हैंडीक्राफ्ट और बुनकरी से जुड़े लोगों की उम्मीद फिर जगने लगी है। इसका कारण यह है कि इसके लिए नई कार्यदायी एजेंसी को काम सौंप दिया है। लालपुर में बनने वाले सेंटर का निर्माण कार्य अब नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कारपोरेशन (एनबीसीसी) करेगी। कंपनी ने काम संभाल भी लिया है

पीएम की घोषणा के बाद पहले प्रशासन ने जमीन तलाशने में काफी समय लगा दिया। उसके बाद ट्रेड सेंटर का शिलान्यास सात नवंबर 2014 को पीएम मोदी ने किया था। शिलान्यास के बाद सेंटर को जल्द मूर्तरूप लेने की उम्मीद जगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और जमीन रजिस्ट्री, भवन का नक्शा, लैंड यूज परिवर्तन, संबंधित विभाग से एनओसी लेने में आठ माह निकल गए। इसके बाद कार्यदायी संस्था ने समय से काम प्रारंभ नहीं किया। 

ऐसी परिस्थिति में इससे जुड़कर अपने रोजगार और हुनर को एक मुकाम दिलाने वालों की आशा धूमिल हो गई। एक बार तो संस्था के अन्यत्र जाने की बात होने लगी। इस कारण कार्यदायी संस्था को बदल कर अब एनबीसीसी को काम सौंपा गया है। अब इस नई कार्यदायी संस्था ने काम संभाल लिया है। निर्माण कार्य की पड़ताल के लिए हाल ही में एक केंद्रीय अधिकारी ने दौरा कर कार्य प्रगति का जायजा लिया। नई संस्था ने काम संभाल लिया है तो हैंडीक्राफ्ट से जुड़े लोगों की आशा बढ़ गई है। संस्था से जुड़े लोगों की माने तो वर्ष 2017 तक फेसिलिटेशन सेंटर तैयार हो जाएगा।

बुनकरों को पीएम की सौगात

पीएम ने पूर्वाचल के बुनकरों को सशक्त बनाने के उद्देश्य से करीब एक वर्ष पूर्व पहले 50 लाख रुपये फिर 147 करोड़ रुपये का प्रावधान किया। 7.93 एकड़ में बनने वाले इस सेंटर के बनने तक केंद्र सरकार करीब एक हजार करोड़ रुपये व्यय करेगी। सेंटर के तैयार हो जाने पर जहां हजारों लोगों को प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा वहीं पूर्वाचल में हैंडीक्राफ्ट और बुनकरी के हुनर को फिर से एक बार उसका मुकाम मिलेगा।

गाँव कनेक्शन नेटवर्क

Tags:    India 
Share it
Top