काबुल में आत्मघाती हमले में मारे गए 14 नेपाली सुरक्षाकर्मी

काबुल में आत्मघाती हमले में मारे गए 14 नेपाली सुरक्षाकर्मीgaonconnection

काबुल (एएफपी)। तालिबान के एक आत्मघाती बम हमलावर ने काबुल में एक मिनीबस को निशाना बनाकर इसमें सवार 14 नेपाली सुरक्षाकर्मियों को मार डाला। वाशिंगटन द्वारा अमेरिकी सेना की ओर से चरमपंथियों पर हमला करने के अधिकार को विस्तार दिए जाने के बाद से यह पहला ऐसा हमला है, जिसकी जिम्मेदारी ली गई है।

पुलिस ने कहा कि काबुल से जलालाबाद शहर की ओर जाने वाले मुख्यमार्ग पर यह हमला सुबह छह बजे से पहले किया गया। हमलावर पैदल आया था।गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘इसके परिणामस्वरुप 14 विदेशी मारे गए। ये सभी नेपाल के नागरिक थे।'' मंत्रालय ने कहा कि वह इस हमले की कड़ी निंदा करता है।

नाम उजागर न करने की शर्त पर एक सुरक्षा अधिकारी ने एएफपी को बताया कि ये सुरक्षाकर्मी काबुल में पश्चिमी देशों के दूतावासों को सुरक्षा उपलब्ध करवाने वाली कंपनी के कर्मचारी थे। मंत्रालय ने कहा कि पांच नेपाली और चार अफगान लोगों समेत नौ अन्य लोग घायल हो गए थे।

विस्फोट की आवाज पूरे काबुल में सुनी जा सकती थी। जलालाबाद मार्ग पर विस्फोट वाले स्थान से धुंए का गुबार उठते देखा गया। इस मुख्य मार्ग पर कई विदेशी परिसर और सैन्य प्रतिष्ठान हैं।

एएफपी के एक पत्रकार ने कहा कि दो दर्जन से ज्यादा एंबुलेंसे मौके पर पहुंच गई थीं और पुलिस ने सड़क को अवरुद्ध कर दिया था। विस्फोट स्थल के पास की दुकानों को भी नुकसान पहुंचा था। खिड़कियों के शीशे चटक गए थे।

Tags:    India 
Share it
Top