कांग्रेस में परिवार के बाहर का नेतृत्व नहीं: जेटली

कांग्रेस में परिवार के बाहर का नेतृत्व नहीं: जेटलीgaoconnection

लखनऊ। केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश में कांग्रेस की स्थिति दयनीय हो गई है। कांग्रेस पहाड़ी क्षेत्र के पांच राज्यों और कनार्टक में ही सिमट कर रह गई है। उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि परिवार के बाहर कोई नेतृत्व नहीं बचा है। हाल में चुनाव परिणाम आने के बाद कई क्षेत्रीय दल नया फेडरल फ्रंट बनाने मंशा बना रहे हैं, लेकिन कांग्रेस विरोधी के रूप में रहे।

मोदी सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर कानपुर रोड के सीएमएस स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा कि गुजराल, वीपी सिंह, देव गौड़ा ने भी फेडरल फ्रंट बनाया था, लेकिन कोई सफल नहीं हुआ, लेकिन हाल के चुनाव के बाद विपक्षी फिर वही राग अलाप रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि देश के 15 राज्यों में एनडीए की सरकार है, जबकि कांग्रेस की पांच पहाड़ी राज्यों और कनार्टक में सरकार है, उन्होंने कहा किए एक या सवा वर्ष में इन राज्यों में भी एनडीए की सरकार होगी।

उन्होंने मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि मोदी में पंडित नेहरू, इंदिरा गांधी और लालबहादुर शास्त्री का मिलाजुली सोच है। उन्होंने पिछली यूपीए सरकार पर अटल की राष्ट्रीय राजमार्ग योजना को बर्बाद कर देने का आरोप लगाते हुए कहा कि अब एनडीए सरकार एक वर्ष में 10,000 किमी सड़क बनवा रही है, यानी प्रतिदिन 30 किमी। एनडीए सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा सत्ता में आने पर कुछ महीने नई सरकार के उत्साह मनाते हैं और पांच वर्ष के अंत में योजना और नीति तैयार करते हैं।  

मोदी सरकार परिश्रम से जूझने वाली है और देश के विकास के लिए तेजी से निर्णय लिए लोकसभा में कानून पास कराने के साथ राज्यसभा में भी 101 कानून पास कराए गए हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2018 में देश के सभी गाँव में बिजली पहुंच जाएगी। गाँव के सभी घरों में शौचालय होंगे। एनडीए सरकार किसानों की आय बढ़ाने का रास्ता तैयार कर रही है, उन्हें सिंचाई के लिए पानी भी उपलब्ध करा रही है। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top