Top

कांवड़ के लिए कल से बंद हो रहा है दिल्ली-हरिद्वार हाई-वे

कांवड़ के लिए कल से बंद हो रहा है दिल्ली-हरिद्वार हाई-वेgaonconnection

बागपत। सावन में भोले के भक्तों की कांवड़ यात्रा शुरू हो गई है। 23 जुलाई से एक अगस्त तक के लिए दिल्ली से हरिद्धार राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 को भारी वाहनों के लिए बंद कर दिया जाएगा। इस बार किसी अनहोनी से बचने के लिए सीसीटीवी कैमरों और ड्रोन की मदद ली जा रही है।

कांवड़ यात्रा के दौरान किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए पुलिस इस बार सीसीटीवी कैमरों और ड्रोन से नज़र रखेगी। श्रावण मास में लाखों की संख्या में कांवड़िए हरिद्वार और गोमुख से जल लेकर दिल्ली, राजस्थान और हरियाणा को जाते हैं, जिसके चलते एनएच बंद कर दिया जाता है। इस दौरान कावड़ियों के साथ कई बार विभिन्न प्रकार की घटनाएं घटित हो जाती हैं, जिसके चलते पुलिस की परेशानी बढ़ जाती है।

मेले के दौरान मंदिर परिसर में पहले ही सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जाती है, लेकिन रास्तों में कावड़ियों को होने वाली परेशानियों को पहले ही दूर करने और हर गतिविधि पर नज़र रखने की तैयारियां भी शुरू कर दी गई है। इस बार कावड़ियों के आने वाले पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की तैयारियां भी शुरू कर दी गई है। पुलिस ने बागपत में ऐसे दर्जनभर स्थान भी चिन्हित कर लिये हैं, जहां पर सीसीटीवी कैमरे लगाये जाएंगे।

बागपत जनपद की सीमा में प्रवेश करने के बाद कावड़ियों की हर गतिविधि सीसीटीवी कैमरों की खुफिया नजरों में कैद हो जाएगी। एएसपी अजीजुल हक का कहना है कि कावड़ियों के आने वाले रास्तों की साफ-सफाई कराई जा रही है। सफाई होने के बाद चिन्हित किये गए स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगा दिये जाएंगे। सीसीटीवी कैमरों से हर मिनट की गतिविधि पर नज़र रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि रास्तों पर लगाने के लिए 12 सीसीटीवी कैमरे मंगवाये जा रहे हैं।

दूसरे जनपद से मंगवाया जाएगा एक ड्रोन

बागपत में इस दौरान पुरा मेले में हजारों श्रृद्धालु उमड़ते हैं। उन पर इस बार ड्रोन से नजर रखी जाएगी। बागपत पुलिस के पास एक ड्रोन कैमरा पहले से ही उपलब्ध है। मेले पर नजर रखने के लिए दो ड्रोन कैमरों की व्यवस्था की जा रही है, इसलिए दूसरा ड्रोन कैमरा दूसरे जनपद से मंगवाया जाएगा।

रिपोर्टर- सचिन त्यागी

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.