कांवड़ मेलाः हेलीकॉप्टर से की जाएगी निगरानी

कांवड़ मेलाः हेलीकॉप्टर से की जाएगी निगरानीgaonconnection

बागपत। कांवड़ मेले पर पुरा मंदिर की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। इसी क्रम में बाहरी जनपदों से पुलिस फोर्स के अलावा अन्य संसाधन मंगवाए जा रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर इस बार श्रावणी मेले की निगरानी हेलीकॉप्टर से की जाएगी।

श्रावणी मेले के दौरान हेलीकॉप्टर से बागपत, मेरठ, शामली सहित चार जनपदों की निगहबानी की जाएगी। आईजी ने जारी किए गए  पत्र में श्रावणी मेले के लिए भारत सरकार के हेलीकॉप्टर को किराये पर लेने की बात कही है। 

श्रावणी मेले की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रखने के लिए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी दिन-रात भागदौड़ कर रहे हैं। मेले को शांतिपूर्वक समपन्न कराने के लिए दूसरे जनपदों से आवश्यक पुलिसबल ओर अन्य संसाधन मंगाए जा रहे हैं। श्रावणी मेले में लाखों शिवभक्त हरिद्वार और गौमुख से कांवड़ लेकर पुरा मंदिर में पहुंचते हैं। श्रावणी मेले की तैयारियों में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी करीब एक पखवाड़े से जुटे हुए हैं।

इसी क्रम में दो ड्रोन कैमरों से मेले पर नजर रखने की प्लानिंग तो पहले ही कर ली गई थी। अब श्रावणी मेले पर नजर रखने के लिए हेलीकॉप्टर की भी व्यवस्था कर दी गई है। हेलीकॉप्टर से बागपत, शामली, मेरठ सहित चार जनपदो में श्रावणी मेले की निगरानी की जाएगी।

आईजी सुजीत पांडेय की ओर से चारों जनपदों के पुलिस अधीक्षकों को जारी किए गए पत्र में बताया गया है कि श्रावणी मेले की निगहबानी के लिए भारत सरकार का हेलीकॉप्टर किराए पर लेने की अनुमति मिल गई है। अब बागपत, मेरठ, शामली सहित चार जनपदों में हेलीकॉप्टर से निगहबानी की जाएगी।

दूसरे जनपद से मंगवाया जाएगा एक ड्रोन कैमरा

मेला सेल से मिली जानकारी के अनुसार, श्रावणी मेले पर दो ड्रोन कैमरों से नजर रखने की प्लानिंग बनाई गई थी। एक ड्रोन कैमरा तो बागपत पुलिस के पास पहले से ही है, जिसे जिला पंचायत चुनाव में खरीदा गया था, जबकि दूसरा ड्रोन कैमरा दूसरे जनपद से मंगवाया जाएगा। जिसके लिए मेरठ कार्यालय से अनुमति मिल गई है। मेले से पहले ही दूसरा ड्रोन कैमरा भी मंगवा लिया जाएगा। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top