कारगिल में हिमस्खलन की चपेट में सेना की चौकी, एक जवान लापता

कारगिल में हिमस्खलन की चपेट में सेना की चौकी, एक जवान लापताGaon Connection

उधमपुर। गुरुवार रात कारगिल ज़िले में सेना की एक चौकी हिमस्खलन की चपेट में आ गई। हादसे के बाद से ही एक जवान लापता है। लापता जवान को ढूंढने की कवायद जारी है। एक अधिकारी के मुताबिक़ 17 मार्च यानि गुरुवार की रात 10 बजकर 45 मिनट पर कारगिल सेक्टर में 17,500 फुट की उंचाई पर बनी चौकी में आर्मी के दो जवान सर्विलांस ड्यूटी पर थे। तभी वहां भूकंप के झटके महसूस किए गए और फिर हिमस्खलन हुआ। दोनों जवान इसकी चपेट में आ गए। एक सैनिक को सुरक्षित बचा लिया गया। वहीं दूसरा जवान अभी लापता है। खराब मौसम के बावजूद दूसरे जवान को ढूंढने की कवायद जारी है लेकिन अभी तक उसकी कोई खबर नहीं लगी है।

इससे पहले तीन फरवरी को सियाचीन में नियंत्रण रेखा के पास 19,000 फुट की उंचाई पर एक जूनियर कमीशन प्राप्त अधिकारी (जेसीओ) सहित 10 सैनिक उस वक्त बर्फ के नीचे फंस गए थे, जब उनकी चौकी हिमस्खलन के चपेट में आ गई थी। वो सभी बर्फ के नीचे दब गए थे। उनमें से सभी सैनिकों को पहले ही मृत घोषित कर दिया गया। बाद में बचावकर्मियों ने लांस नायक हनुमंतप्पा कोप्पड को छह दिनों के बाद बर्फ के नीचे जीवित पाया। बाद में इलाज के दौरान 11 फरवरी को उनकी मौत हो गई थी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top