कैंसर पीड़ित बच्चों के लिए अखिलेश यादव का तोहफा

कैंसर पीड़ित बच्चों के लिए अखिलेश यादव का तोहफाgaoconnection

लखनऊ। “मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से कैंसर रोग के रोगियों की सबसे ज्यादा मदद की गई है, जिससे पता लगता है कि यह रोग बहुत तेजी से फैल रहा है।” ये बात मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने केजीएमयू में निर्मित दो नये पीडियाट्रिक कैंसर वार्डों का उद्घाटन करते हुए कही।

मुख्यमंत्री ने केजीएमयू में इस सुविधा की स्थापना के लिए ‘हेल्पिंग हैण्ड्स’ ट्रस्ट का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि इसके निर्माण से अब कैंसरग्रस्त बच्चों का बेहतर ढंग से इलाज किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के लोगों को अच्छी चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से समाजवादी सरकार द्वारा लगातार कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति केजीएमयू महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। उन्होंने कहा कि यह विश्वविद्यालय देश के सबसे पुराने और मशहूर चिकित्सा शिक्षा संस्थानों में से एक है। 

उन्होंने कहा कि जब भी प्रदेश में समाजवादी सरकार रही, चाहे वह नेताजी के नेतृत्व वाली सरकार हो अथवा वर्तमान सरकार, सभी ने इस संस्थान की सुविधाओं में हमेशा इजाफा किया है। इसके लिए नए विभाग स्थापित किए गए और नए भवनों का भी निर्माण कराया गया। उन्होंने कहा कि सुविधाओं में और बढ़ोत्तरी करने के लिए आवश्यक भवनों का आगे भी निर्माण कराया जाएगा।उन्होंने कहा कि जब भी इस संस्थान का नाम बदला गया तो समाजवादी सरकारों ने इस संस्थान को इसका पुराना नाम पुनः वापस दिलाने का भी काम किया। 

उन्होंने कहा कि 18 मण्डलीय जिलों के राजकीय चिकित्सालयों में किडनी के मरीजों के लिए हीमोडायलिसिस की निःशुल्क सुविधा उपलब्ध कराने का भी निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अनेक मेडिकल कालेजों के साथ-साथ सुपर स्पेशियलिटी अस्पतालों सहित नवीन उच्चीकृत चिकित्सा इकाइयों की भी स्थापना कराई जा रही है। कैंसर जैसे दुःसाध्य रोग से निपटने के लिए लखनऊ में एक उच्चस्तरीय कैंसर संस्थान की भी स्थापना की जा रही है, ताकि प्रदेश के कैंसर मरीजों को राज्य में ही इलाज की अच्छी सुविधा मिल सके। 

उन्होंने लखनऊ मेट्रो पर बोलते हुए कहा कि यह देश में स्थापित की गई सबसे तेज मेट्रो योजना होगी। इसके संचालन से लोगों को बहुत सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों का भी ध्यान रख रही है। गन्ना किसानों की मदद की जा रही है। चीनी मिलों की भी मदद की जा रही है। चीनी उद्योग की भी सहायता की जा रही है। उन्होंने कहा कि आजमगढ़ में मात्र नौ महीने के अंदर चीनी मिल निर्मित कर चालू करवा दी गई।

सेंटर में ये हैं सुविधाएं

केजीएमयू में आज जिन दो नए पीडियाट्रिक कैंसर वार्ड का उद्घाटन किया गया, उनकी स्थापना हेल्पिंग हैण्ड ट्रस्ट द्वारा की गई है। इन वार्ड में 60 बेड उपलब्ध हैं, जिसमें चिकित्सक कक्ष, कीमोथेरेपी कक्ष, आइसोलेशन कक्ष, नर्स स्टेशन, कान्फ्रेंस रूम, डे केयर एरिया, प्रसाधन के अलावा बच्चों के खेलने के स्थान का प्रावधान भी किया गया है। 

Tags:    India 
Share it
Top