कैराना से कोई पलायन नहीं हुआः शिवपाल

कैराना से कोई पलायन नहीं हुआः शिवपालgaonconnection

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश सरकार ने भाजपा पर आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर साम्प्रदायिक माहौल खराब करने का आरोप लगाते हुए आज दावा किया कि शामली के कैराना से कोई पलायन नहीं हुआ है और कहा कि वह हालात की निष्पक्ष जांच के लिये संतों से मदद मांगेगी।

प्रदेश के वरिष्ठ काबीना मंत्री और सत्तारुढ सपा के मुख्य प्रान्तीय प्रवक्ता शिवपाल सिंह यादव ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''कैराना में भाजपा के लोग रोज पलायन-पलायन की बात करते हैं। पलायन कहीं नहीं हो रहा है। हमारे पास अभिसूचना समेत सभी रिपोर्ट हैं।'' उन्होंने भाजपा सांसद हुकुम सिंह और मुजफ्फरनगर दंगों के आरोपी विधायक संगीत सोम का नाम लेते हुए कहा कि जाली नोटों से लेकर जमीन कब्जे तक हर गैरकानूनी काम करने वाले कुछ नेता आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर दंगा कराकर वोट हासिल करने की फिराक में हैं, लेकिन सपा सरकार ऐसा होने नहीं देगी।

यादव ने कहा, ‘‘हम मीडिया के माध्यम से पांच संतों आचार्य प्रमोद कृष्णम, स्वामी कल्याण, नारायणा गिरि, स्वामी चिन्मयानन्द और स्वामी चक्रपाणि से निवेदन कर रहे हैं कि वे कैराना जाएं और स्थिति की जांच कर सही बात सामने रखें। ये बडे संत हैं। अभी तक तो पार्टी के लोग जा रहे थे। हम संतों से निवेदन कर रहे हैं। वे बिल्कुल सही रिपोर्ट देंगे।'' 

भाजपा सांसद हुकुम सिंह ने कैराना से हिन्दू परिवारों के पलायन का आरोप लगाते हुए कथित रुप से पलायन करने वाले परिवारों की सूची जारी की थी। इस बारे में पुलिस के आला अधिकारियों द्वारा सिंह पर चुनावी ध्रुवीकरण की कोशिश के आरोप सम्बन्धी रिपोर्ट लीक होने के बाद सिंह ने कांधला से भी पलायन की बात कही थी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top