कैसरबाग बस अड्डे को अंतर्राष्ट्रीय बस अड्डा बनाने का काम शुरू

कैसरबाग बस अड्डे को अंतर्राष्ट्रीय बस अड्डा बनाने का काम शुरूgaonconnection

लखनऊ। पिछली 11 मई को हुई कैबिनेट बैठक में कैसरबाग बस अड्डे को अंतर्राष्ट्रीय बस अड्डा बनाने के लिए प्रदेश सरकार ने करोड़ों का बजट पास किया था, जिसके बाद अब उस बजट का इस्तेमाल होना शुरू हो गया है। यात्री सुविधा को ध्यान में रखते हुए बस अड्डे को सभी सुख सुविधाओं से लैस करने की कवायद तेज हो गई है। कैसरबाग बस अड्डा प्रदेश का पहला ऐसा बस अड्डा होगा जो पूरा वातानुकूलित होगा। 

अभी तक बस अड्डे के अंदर कोई भी यात्री या उसके परिजन बिना टिकट या किराए के अंदर चला जाता है, लेकिन वातानुकूलित बस अड्डे में ऐसा नहीं हो सकेगा। 

निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद बस अड्डे के अंदर सिर्फ उन्हीं को प्रवेश मिलेगा जिन्हें सफर करना होगा। साथ ही कैसरबाग में लगने वाले जाम को ध्यान में रखकर इस ओर आने-जाने वाले वाहनों को सौ मीटर पहले ही रोक दिया जाएगा। परिवहन निगम की ओर से बस अड्डे का ले-आउट तैयार कर शासन को भेज दिया है। 

शुरू करा दिया गया काम

शासनादेश जारी होने और बजट मिलने में भले ही अभी देरी हो लेकिन बस अड्डे का कायाकल्प होना तय है, ऐसे में जो भी शुरुआती काम होने हैं उन्हें शुरू करा दिया गया है। बस स्टॉप के बाहर की तरफ लगी कुर्सियां और खम्भे हटाए जा चुके हैं। कई विज्ञापनों को भी हटा दिया गया है। ग्राउंड फ्लोर पर यात्रियों की सुविधाओं के साथ सिर्फ बसों के संचालन की व्यवस्था होगी। यात्री सुविधाओं में यहां पर पीने के पानी और शौचालय की भी व्यवस्था रहेगी। 

सोलर लाइट से जगमगाएगा स्टैंड

परिवहन निगम के निर्माण इकाई के अधिशासी अभियंता मोहम्मद इरफान ने बताया कि बस अड्डे पर सोलर लाइट के लिए पैनल लगाया जाएगा, एलईडी लाइट्स लगाई जाएंगी। सोलर लाइट लग जाने के बाद यहां पर बिजली की खपत कम हो जाएगी। जिससे अभी जो बिल हर महीने लाखों रुपए चुकाना पड़ता है उसमें भी कमी आने की संभावना है।  

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top