मोदी के मोबाइल ऐप से दोगुनी होगी किसानों की आय

मोदी के मोबाइल ऐप से दोगुनी होगी किसानों की आयसरकार किसानों को ग्राहकों से जोड़ने के लिए बनवा रही है मोबाइल ऐप।

नई दिल्ली (भाषा)। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि सरकार किसानों को उनकी फसल का सही मूल्य दिलाने के लिए एक मोबाइल ऐप डिजाइन करा रही है। यह ऐप किसानों और ग्राहकों के बीच संपर्क का काम करेगा। यही नहीं ऐप से किसानों को समय से बाजार में चल रहे ट्रेंड की जानकारी मिलेगी।

नवीनतम तकनीक से लैस होंगे किसान

वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य पर काम कर रही है। इसके लिये कृषि क्षेत्र में नवीनतम तकनीक और अधिक उपज वाली फसलों कि किस्म अपनाना पड़ेगा।

जेटली ने कहा कि उत्पादकता बढ़ाने के लिए तकनीक के प्रयोग के साथ कृषि क्षेत्र के प्रोत्साहन ढांचे की समीक्षा करने की भी जरूरत है। कृषि उपज के नुकसान को कम करने और किसानों की आय बढ़ाने के लिए कृषि उत्पादों की मार्केटिंग बेहतर करने की भी जरूरत है।

कृषि क्षेत्र के प्रतिनिधियों से मिले जेटली

जेटली ने आज यहां कृषि क्षेत्र के प्रतिनिधियों के साथ अपनी पहली बजट पूर्व विचार विमर्श एवं सलाहकार बैठक में कहा कि इसके अलावा कृषि क्षेत्र को दिए जाने वाले प्रोत्साहन ढांचे की भी समीक्षा की जरूरत है।

जेटली ने तकनीक के प्रयोग पर जोर देते हुए कहा कि हमें विशेषतौर पर उच्च पैदावार और प्रतिरोधक क्षमता वाले बीजों, सिंचाई के लिए पानी के किफायती इस्तेमाल, नई सूचना प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल जिससे कि मौसम के अनुरूप चरणों में बुवाई की जा सके इत्यादि को भी अमल में लाने की जरूरत है।

सभी मंडियां आपस में जुड़ेंगी

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, ‘‘वित्त मंत्री ने कहा कि ‘राष्ट्रीय कृषि बाजार' को प्रभावी रूप से क्रियान्वित किए जाने के लिए 2017 तक देश की 550 विनियमित मंडियों के एकीकरण की जरूरत है और उसके लिए राज्यों को कृषि उपज मंडी समिति अधिनियम में संशोधन की आवश्यकता है।''

Share it
Top