पिछले वर्ष के मुकाबले घटा रबी फसलों का रकबा

पिछले वर्ष के मुकाबले घटा रबी फसलों का रकबारबी फसल।

राज्यों से प्राप्त 7 प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार 19 जनवरी, 2018 तक 617.79 लाख हेक्टेयर जमीन पर रबी की बुवाई की गई, जबकि पिछले वर्ष 2017 में इसी अवधि तक 620.99 लाख हेक्टेयर जमीन पर बुवाई की गई थी।

अगर अलग-अलग फसलों के हिसाब से देखें तो इस वर्ष अब तक गेहूं की बुुवाई 298.67 लाख हेक्टेयर में हुई है जबकि पिछले वर्ष इस समय तक 311.17 लाख हेक्टेयर में गेहूं की बुवाई हुई थी। वहीं चावल की अगर बात करें तो पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष चावल के क्षेेत्र में बढ़ोतरी देखने को मिली है। चावल की बुवाई पिछले वर्ष जहां 15.99 लाख हेक्टेयर में हुई थी वहीं इस बार यह बढ़कर 22.32 लाख हेक्टेययर पर पहुंच गई है।

ये भी पढ़ें- इस समय रबी फसलों का करें खास प्रबंधन

दलहनी फसलों की अगर बात करें तो इसमें भी बढ़ोतरी देखने को मिली है। पिछले वर्ष अब तक दलहनी फसलों की बुवाई 155.78 लाख हेक्टेयर में हुई थी, जबकि इस बार अबतक 163.11 लाख हेक्टेबयर में दालें की बुवाई हुई थी।

मोटे अनाज की बुवाई में इस वर्ष कमी आई है। पिछले वर्ष मोटे अनाज की बुवाई 55.99 लाख हेक्टेर में बुवाई हुई थी और इस बार आब तक 54.58 लाख हेक्टेकयर जमीन पर बुआई की गई है।

ये भी पढ़ें- ठंड व कोहरे से खिले किसानों के चेहरे, रबी उत्पादन बढ़ने की उम्मीद

इस वर्ष तिलहनी फसलों का हाल भी गेंहू की फसल के जैसा ही है। 79.11 लाख हेक्टेयर जमीन पर तिलहनों की अब तक बुवाई की गई, जबकि पिछले वर्ष अब तक 82.08 लाख हेक्टेयर में बुवाई हुई थी।

अब तक बुवाई किये गये और पिछले वर्ष इसी अवधि तक बुवाई किए गए क्षेत्र इस प्रकार है-

ये भी पढ़ें- इस समय गेहूं में बढ़ सकता है पीला रतुआ रोग का प्रकोप, समय से करें प्रबंधन 

ये भी पढ़ें- क्या आपने नीली मूंगफली और गुलाबी भिंडी के बारे में सुना है ?

Tags:    Rabi Fasal 
Share it
Top