कर्ज़माफी को लेकर यूपी के किसानों की धड़कनें तेज

Prashant ShrivastavPrashant Shrivastav   4 April 2017 4:33 PM GMT

कर्ज़माफी को लेकर यूपी के किसानों की धड़कनें तेजgaonconnection

प्रशांत श्रीवास्तव ,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

बहराइच। अब कुछ देर बाद योगी कैबिनेट की पहली बैठक होने वाली है। ऐसे में कर्जमाफी की उम्मीद लगाए बैठे किसानों की धड़कनें बढ़ गई हैं। सुबह यहीं चर्चा चल रही है कि सरकार इस बैठक में कर्ज माफ करेगी या नहीं, और करेगी तो किस दर्जे के किसानों का कर्ज माफ होगा, इसे लेकर किसानों में असमंजस भी देखने को मिल रहा है।

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उत्तर प्रदेश में नई सरकार के गठन के बाद से किसानों के कर्जमाफी को लेकर चर्चा है। बीेजेपी सत्ता में आने पर कर्ज माफ करने वादा किया था, और अब जब बीजेपी पूर्ण बहुमत से सत्ता में आई है तो किसान उऩकी तरफ उम्मीद से देख रहे हैं। मंगलवार को सुबह से गांवों में सिर्फ योगी कैबिनेट की चर्चा है, जिसमें उन्हें उम्मीद है कि सरकार किसानों के कर्जमाफी के वादे को पूरा करेगी।

इंडो नेपाल बॉर्डर का तराई जनपद बहराइच में 3,50,979 हेक्टेयर भूमि कृषि कार्य में प्रयोग होने के साथ कृषि यहां का मुख्य व्यवसाय है। प्रदेश सरकार से उम्मीद लगाए बैठे पयागपुर ब्लॉक के राजापुर ग्राम के निवासी अनुपम मिश्र (29 वर्ष) ने बताया, “यहां 66 प्रतिशत किसान हैं और जिनमें से 50 फीसदी किसान कर्जदार हैं, ऐसे में कर्ज माफी की घोषणा को लेकर सभी कर्जदार किसानों में बेचैनी है कि क्या होगा? अगर कर्ज माफ़ी न हुई तो हजारों परिवार भूखों मर जायेंगे।” वही बमियारी ग्रामसभा के दयाशंकर मिश्र (48 वर्ष) ने बताया, “सभी किसान अपने कर्ज माफ़ी की उम्मीद लगाये बैठे हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top