किसान का दावा : जीरो बजट खेती के तरीके से सिर्फ एक साल में अमरूद के पौधे से लिए फल

किसान का दावा : जीरो बजट खेती के तरीके से सिर्फ एक साल में अमरूद के पौधे से लिए फलअमरूद की बागवानी।

मध्य प्रदेश। किसान मन्नालाल पाटीदार ने जीरो बजट खेती की विधि को अपनाकर अमरूद के पौधे तैयार किये हैं और सिर्फ एक साल में ही अमरूद आने शुरू हो गए हैं।

मन्नालाल पाटीदार मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के रूपाखेड़ा गाँव के रहने वाले हैं। वो अमरूद के पौधे और उसके फलों को दिखाते हुए कहते हैं, ''मैने ये पैधे जीरो बजट खेती के तरीके से तैयार किये हैं। इसको तैयार करने के लिए सिर्फ जीवामृत तैयार करके इसमें डाला गया है।

ये भी पढ़ें -डेढ़ सौ रुपए का एक अमरूद बेचता है ये किसान

जीवामृत गाय के मूत्र, गोबर, गुड़, बेसन और बरगद के नीचे की थोड़ी सी मिट्टी से तैयार किया जाता है, जो घर पर ही आसानी से तैयार किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें -

नौ बीघा अमरूद की बाग में लाखों की कमाई

सेहत की रसोई: सर्दियों में फायदेमंद है अमरूद की लौंजी

फसल से उत्पाद बनाकर बेचते हैं ये किसान, कमाते हैं कई गुना मुनाफा

सूखे और पिता से लड़कर एक किसान पूरे इलाके में ले आया ‘तालाब क्रांति’

Share it
Top