देश के कई हिस्सों में दूसरे दिन भी बारिश जारी, अगले 24 घंटे में ओलावृष्टि होने की आशंका

देश के कई हिस्सों में दूसरे दिन भी बारिश जारी, अगले 24 घंटे में ओलावृष्टि होने की आशंकाअगले 24 घंटे में ओलावृष्टि की आशंका

देश के कई हिस्सों में सोमवार को भी बदली छाई हुई है और इसके साथ ही कुछ हिस्सों में छुट-पुट बारिश भी हुई। रविवार को बारिश के साथ हुए ओलावृष्टि ने देश के किसानों के चेहरे पर मायूसी और निराशा की लकीरें उकेर दी हैं। यह बारिश और ओलावृष्टि किसानों की फसल के लिए कहर साबित हुई है क्योंकि इससे सभी फसलों को नुकसान हुआ है।

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार सुबह बदली छाई हुई है और यहां का न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 13 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने बताया, "आसमान में आमतौर पर बादल छाए रहेंगे और कुछ इलाकों में गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।"

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और यूपी के कई इलाकों में ओलावृष्टि, अगले दो दिन हो सकती है बारिश

देश में सबसे अधिक बारिश और ओलावृष्टि मध्य प्रदेश में हुई है, जिससे किसानों की फसल बर्बाद हो गई है। ऐसे में मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में बारिश और ओले पड़ने की चेतावनी भी जारी की है। मौसम विभाग के अनुसार, पूर्वोत्तर व मध्य भारत में पश्चिमी विक्षोभ और पूर्वी हवाओं के मिलने के कारण राज्य के मौसम में बदलाव आया है और बीते 24 घंटों में कई स्थानों पर बारिश के साथ ओले भी गिरे। इससे राज्य में ठंड का असर एक बार फिर बढ़ गया है। सोमवार की सुबह धूप खिली होने से ठंड से कुछ राहत है।

मौसम विभाग के अनुसार, बीते 24 घंटों में राजधानी में 13.3 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई। वहीं, मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में राज्य के कई हिस्सों में बारिश की संभावना जताई है। साथ ही ग्वालियर, चंबल व रीवा संभाग और बैतूल, हरदा, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, सिवनी और अनूपपुर जिलों में ओले गिरने की चेतावनी जारी की है।

ये भी पढ़ें- बारिश और ओलावृष्टि से परेशान किसान ने सोशल मीडिया ज़ाहिर किया अपना गुस्सा

महाराष्ट्र के कुछ हस्सिों में रविवार को बेमौसम ओलावृष्टि और भारी बारिश होने के चलते एक व्यक्ति की मौत हो गयी और फसलों को नुकसान पहुंचा। राज्य सरकार के अधिकारियों ने बताया कि वशिम और औरंगाबाद जिले में दो महिलाएं घायल हुई हैं। भाषा चंदन सुभाष राज्य के राजस्व विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ''इस व्यापक क्षेत्र में सुबह साढ़े सात बजे से ओलावृष्टि शुरू हुयी और यह आधे घंटे तक लगातार जारी रही।'' उन्होंने बताया, ''जिलों का आपदा प्रबंधन विभाग आंधी से होने वाले नुकसान का जल्द ही आकलन करेगी।''

जालना जिले में ओलावृष्टि में घायल हुए 70 वर्षीय एक किसान की बाद में मौत हो गयी। जालना के जिला क्लेक्टर शिवाजीराव जोनधले ने बताया, ''किसान सुबह अपने खेत की ओर जा रहा था और उसी समय तेज ओलावृष्टि आ गयी। वह गंभीर रूप से घायल हो गया और उसकी मौत हो गयी।''

बिहार की राजधानी पटना सहित राज्य के अधिकांश हिस्सों में सोमवार को सुबह हल्के बादल छाए हुए हैं। इस बीच तापमान में भी मामूली वृद्घि दर्ज की गई है। सोमवार को पटना का न्यूनतम तापमान 14.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। मौसम विभाग ने सोमवार को अपने पूर्वानुमान में कहा है कि अगले 24 घंटे के दौरान राजधानी सहित राज्य के कुछ हिस्सों में हल्के बादल छाए रह सकते हैं। हालांकि बारिश की संभावना नहीं है। इस बीच, तापमान में भी मामूली बढ़त दर्ज की जाएगी।

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में भारी ओलावृष्टि से 2 की मौत, फसलों को भारी नुकसान

पटना का सोमवार को अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के करीब रहने की संभावना है। पटना का रविवार को न्यूनतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सयस तथा अधिकतम तापमान 28.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

चंडीगढ़ और उसके आसपास के क्षेत्रों में सोमवार को झमाझम बारिश हुई। मौसम विभाग के अधिकारियों ने क्षेत्र में बारिश का अनुमान जताया था। पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में भी बारिश हुई। चंडीगढ़ में रविवार को अधिकतम तापमान बढ़कर सामान्य से पांच डिग्री अधिक 27.8 डिग्री सेल्सियस हो गया जबकि न्यूनतम तापमान 7.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पंजाब और हरियाणा के अन्य हिस्सों में भी बीते दो से तीन दिनों में अधिकतम तापमान बढ़ा है। मौसम विभाग के अधिकारियों ने आगामी दिनों में मौसम शुष्क रहने का अनुमान जताया है।

ये भी पढ़ें- किसान बर्बाद हो रहा है... हालत तो देखिए

Tags:    hailstorm 
Share it
Top