कपास के बीटी कॉटन बीज के लिए मारामारी, किसानों ने सड़क पर लगाया जाम

कपास के बीटी कॉटन बीज के लिए मारामारी, किसानों ने  सड़क पर लगाया जामबीटी कॉटन बीज का परमिट बंद किए जाने के बाद सड़क पर जाम लगाकर बैठे किसान।

हरियाणा के जींद में बीटी कॉटन बीज का परमिट बंद करने से नाराज किसानों और महिलाओं ने बुधवार को भी सड़क के बीचोंबीच बैठकर जमा लगा दिया। हाल में कृषि विभाग ने किसानों को कॉटन का बीज मुफ्त में देने की घोषणा की थी।

सरकार की घोषणा के बाद अलेवा स्थित कृषि कार्यालय में बीटी कॉटन बीज लेने के लिए किसानों में मारामारी की स्थिति पिछले कुछ दिनों से बनी हुई हैं। कृषि कार्यालय में बीज का परमिट बंद होने से किसानों ने मंगलवार को सड़क पर जाम लगा दिया था, जिसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल रहीं।

कार्यालय में बीटी कॉटन बीज का परमिट बंद करने से नाराज किसानों और महिलाओं ने बुधवार को भी जाम लगा दिया। महिलाओं ने जींद-असंध मार्ग के अलावा बस अड्डे पर जाम लगा दिया। जाम लगने की सूचना मिलते ही अलेवा थाना प्रभारी हरिओम मौके पर पहुंचे।

ये भी पढ़ें- हरियाणा के कुछ इलाकों में बारिश और ओले गिरे, दिल्ली-NCR में तेज हवा-बारिश की चेतावनी

थाना प्रभारी ने कृषि अधिकारियों से फोन पर बातचीत कर किसानों की समस्या का समाधान करने का आश्वासन देकर किसानों और महिलाओं को शांत कर करीब आधा घंटे के बाद जाम खुलवाया।

जाम लगा रहे अलेवा क्षेत्र के विभिन्न गांवों के किसानों और महिलाओं ने बताया कि अलेवा स्थित कृषि कार्यालय ने अचानक बीटी कॉटन बीज के लिए परमिट बंद कर दिया है, जिसके कारण वे लोग बीटी कॉटन बीज से वंचित रह गए।

(एजेंसी)

ये भी पढ़ें- बासमती का जलवा : मेरठ में एक ही दिन में बिके 32 लाख के धान के बीज

कर्नाटक के इस किसान ने विकसित की धान की नई किस्म, अच्छी पैदावार के साथ ही स्वाद में है बेहतर

ये विधि अपनाकर आर्थिक नुकसान से बच सकते हैं लीची किसान

Tags:    agriculture 
Share it
Top