नहर में पानी न होने से आर्थिक रूप से कमज़ोर किसान खेती करें भी तो कैसे 

नहर में पानी न होने से आर्थिक रूप से कमज़ोर किसान खेती करें भी तो कैसे नहर सूखी होने के कारण किसानों को हो रही परेशानी।

फैजाबाद। शारदा नहर फैजाबाद जिले से होकर निकलती है, जिसका लाभ क्षेत्रीय किसानों को समय-समय पर मिलता रहा है। लेकिन अभी शारदा नहर में पानी न होने के कारण नगर सूखी हुई है। जिन किसानों ने गन्ने की बोवाई कर रखी है उन्हें सिंचाई की आवश्यकता है।

क्षेत्र के संपन्न किसान तो नलकूप अथवा पंपिंग सेट्स के सहारे सिंचाई कर रहे हैं, लेकिन आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को नहरों का ही सहारा है। नहर में पानी नहीं है। ऐसे में बोवाई तो पिछड़ ही रही है, साथ ही साथ बोई गई फसलें पानी के अभाव में सूख रही है।

ये भी पढ़ें- इस समय इन रोगों से भिंडी की फसल को बचाना है जरूरी

फैजाबाद के मसौधा विकासखंड के गोपालपुर के रबी कुमार (30 वर्ष) बताते हैं, “हमने सब्जी की बुवाई की है। नहर से सिंचाई की जाती थी। काफी दिनों से पानी न आने से दूसरे के पंपिंग सेट से महंगे दामों पर सिंचाई करनी पड़ती है।”

फैज़ाबाद के रुदौली तहसील के अंतर्गत नेवती ग्राम सभा के रामकरन यादव (45 वर्ष) बताते हैं, “हमने गेहूं काटकर गन्ने की बुवाई की थी, नहर में पानी न होने के कारण अपने निजी पंपिंग सेट से सिंचाई करनी पड़ी। इसलिए फसल से ज्यादा लागत लग रही है।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top