देशी गायों की संख्या बढ़ाने को सरकार की जीनोम अनुक्रमण योजना 

देशी गायों की संख्या बढ़ाने को सरकार की जीनोम अनुक्रमण योजना देशी गायों की संख्या में वृद्धि की योजना।

नई दिल्ली (भाषा)। देशी गायों की संख्या में वृद्धि और प्रजनन संबंधी सटीक पूर्वानुमान के लिए सरकार ने देशी मवेशी के 40 नस्लों के जीनोम अनुक्रमण की महत्वाकांक्षी योजना की शुरूआत की है।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय का जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) ‘द कैटल जीनोमिक्स' परियोजना का कार्यान्वयन करेगा। इस परियोजना के तहत इन नस्लों के डीएनए चिप के विकास पर भी ध्यान दिया जाएगा, जिससे मवेशी की विभिन्न प्रजातियों की विशेषताओं को समझने में मदद मिलेगी।

पारंपरिक तरीके से संख्या में वृद्धि के जरिए मवेशियों में आनुवंशिक सुधार की संभावनाएं सीमित हैं। इस स्थिति से निपटने में जीनोमिक चयन दुनियाभर में मवेशियों के मामले में अहम साबित हुआ है।
मोहम्मद असलम वरिष्ठ वैज्ञानिक और सलाहकार डीबीटी

उन्होंने कहा, ‘‘वर्तमान में जर्सी और होल्स्टेन फ्रिसियन जैसे यूरोपीय नस्लों के लिए ही जीनोम अनुक्रमण किया जाता है, देशी मवेशी के लिए नहीं।'' बाद में भैंसों के लिए भी इसी तरह की जीनोम संक्रमण की परियोजना की शुरूआत की योजना है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top