‘बाहरी मधुमक्खियों से पौधों के अस्तत्वि पर ख़तरा’ 

‘बाहरी मधुमक्खियों से पौधों के अस्तत्वि पर ख़तरा’ मधुमक्खी

लंदन (भाषा)। अनुसंधान के लक्ष्य के साथ पर्यावरण में कृत्रिम तरीके से लाकर बाहर से छोड़ी गयी मधुमक्खियां अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए इलाके की मूल मधुमक्खियों के साथ भिड़ती हैं। इससे उन पौधों को नुकसान पहुंचने की आशंका है, जो विशेष परागणकों पर नर्भिर होते हैं। एक अध्ययन में ऐसा दावा किया गया है।

मधुम्कखी

ब्रिटेन के अंगिला रस्किन वश्विवद्यिालय और नोट्टिंघम वश्विवद्यिालय के वैज्ञानिकों ने मस्रि के पर्वतीय इलाकों में पौधों और परागणकों के संपर्क में आने का अध्ययन किया। इस इलाके में कई प्रकार के स्थानीय पौधे एवं परागणक पाये जाते हैं और बाहरी मधुमक्खियों को छोड़े जाने से उनका भवष्यि खतरे में पड़ सकता है।

ये भी पढ़ें- मधुमक्खी पालन शुरू करना चाहते हैं तो ये जानकारी आपके पास जरूर होनी चाहिए

ये भी पढ़ें- मधुमक्खी पालन के लिए युवा किसानों को किया जा रहा जागरूक

Tags:    Bees 
Share it
Top