खुले में शौच से मुक्त हुआ यूपी का रायपुर गाँव

खुले में शौच से मुक्त हुआ यूपी का रायपुर गाँवgaonconnection

लखनऊ। भारत स्वच्छता मिशन के तहत राजधानी का दूसरा गाँव रायपुर खुले में शौच से मुक्त हो गया है। साथ ही लोग शत प्रतिशत शौचालय का इस्तेमाल करने लगे हैं। लखनऊ में 570 गाँव हैं जिनमें से रायपुर ऐसा दूसरा गाँव है जो कि खुले में शौच से मुक्त हुआ है। इससे पहले मुजासा गाँव भी खुले में शौचमुक्त हो चुका है।

जिला मुख्यालय से 45 किमी दूर माल ब्लॉक के अन्तर्गत आने वाले रायपुर गाँव में 257 परिवार हैं जिसमें सभी लोगों के घरों पर शौचालय बने हुए हैं। रायपुर गाँव को खुले में शौच से मुक्त बनाने के लिए समुदाय आधारित संपूर्ण स्वच्छता (सीएलटीएस) और एनजीओ की टीम ने मिलकर इस अभियान को शुरू किया। टीम के सदस्य लोगों को खुले में शौच नहीं करने के लिए प्रेरित करते थे। ये लोग सुबह चार बजे उठकर गाँवों में भ्रमण करते थे और लोगों को खुले में शौच से मुक्त कराने के लिए सीएलटीएस और एनजीओ के सदस्य सीटी बजाते थे। इस काम को सफल बनाने के लिए मुख्य रूप से सीडीओ, डीपीआरओ, एडीओ पंचायत माल, गाँव के प्रधान और यहां के लोगों ने अहम भूमिका निभाई।  

सीडीओ प्रशांत शुक्ला बताते हैं कि लखनऊ के 570 गाँवों में पहला गाँव मुजासा है और दूसरा गाँव रायपुर है जो कि खुले में शौच से मुक्त हुआ है। इस गाँव की तरह ही सभी गाँवों को शौच से मुक्त कराने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है, ऐसा एक दिन जरूर होगा कि लखनऊ के 570 गाँव खुले में शौच से मुक्त होंगे। रायपुर गाँव के निवासी शिवदीन (62 वर्ष) बताते हैं कि जबसे हम गाँव में रह रहे हैं, तब से आज तक यहां पर कोई शौचालय नहीं था लेकिन अब हमारे गाँव में 257 परिवार हैं और उन सभी लोगों के घर में शौच के लिए शौचालय बने हुए हैं। हमारे गाँव में कोई भी शौच के लिए बाहर खुले में नहीं जाता है। 

 रिपोर्टर - सतीश कुमार सिंह

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top