किसानों के नाम पर सौर उपकरण, खेत की बजाए लगे होटल में

किसानों के नाम पर सौर उपकरण, खेत की बजाए लगे होटल मेंगाँव कनेक्शन, पीलीभीत

पीलीभीत। किसानों को बिजली कि कमी से निजात दिलाने के लिए कृषि विभाग भारी छूट पर सोलर पम्प व पैनल उपलब्ध कराया जाता है। इसके बावजूद इन उपकरणों का इस्तेमाल अपात्र ही कर रहे हैं। 

एक प्रकरण नगर के बड़े होटल में देखने को मिला, जहां मालिक ने सोलर पैनल अपने होटल पर लगवाया है। इस पैनल पर सरकार का स्टैंप भी साफ दिख रहा है।इस बारे में जब गाँव कनेक्शन रिर्पोटर ने होटल के मालिक से पूछताछ की तो उन्होंने इस बारे में कुछ भी कहने से मना कर दिया।

नगर में अवैध तरीके से इस्तेमाल किए जा रहे सरकारी सौर उपकरणों पर कृषि विभाग के डिप्टी डायरेक्टर ऐके सिंह बताते हैं, ''विभाग जिन लोगों को यह सोलर पैनल देता है उनका उपकरण स्थानांनतण भी खुद बना के देता है। इसके बाद वो कहां इस्तेमाल हो रहा है यह जानकारी विभाग के पास नहीं होती है।" 

गाँवों में विद्युतिकरण की बेहतर व्यवस्था बनाए रखने और किसानों को लाभ देने के लिए सरकार सब्सिडी पर सोलर लाइट मुहइया कराती है पर किसान छोड़ इस सुविधा का उपभोग बड़े कारखाने कर रहे हैं।

इस तरह का एक और मामला पूरनपूर रोड पर सकरिया बस स्टैंड के पास बल्क फिलिंग स्टेशन पर भी देखने को मिला, जहां सरकार के अनुदानित सोलर पैनल का इस्तमाल पम्प को जगमग करने के लिए किया जा रहा है। यह ही नहीं सरकारी पैनलों का प्रयोग अकाल एकेडमी वगिया (पूरनपुर रोड) पर भी हो रहा है।

कृषि विभाग पीलीभीत ने इस बात कि कोई जरुरत महसूस नहीं समझी कि सरकार द्वारा भारी अनुदान देकर लिए जाने वाले सोलर पैनलों का प्रयोग सही व्यक्तियों या स्थानों पर हो भी रहा है या नहीं।

रिपोर्टिंग - अनिल चौधरी

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top