Top

किशोर कुमार का हॉस्टल खंडहर में तब्दील, अब बस यादें बाकी

किशोर कुमार का हॉस्टल खंडहर में तब्दील, अब बस यादें बाकीgaonconnection

इंदौर (भाषा)। किशोर कुमार से जुड़े कई दिलचस्प किस्सों का गवाह रहा स्थानीय क्रिश्चियन कॉलेज का 100 साल पुराना हॉस्टल मौसम की मार सहते-सहते खंडहर में तब्दील हो गया है।

शहर के नसिया रोड स्थित क्रिश्चियन कॉलेज के प्राचार्य अमित डेविड ने बताया, ‘हमारे कॉलेज के करीब 60 कमरों के जिस हॉस्टल में किशोर कुमार रहते थे, अब वह इतना जीर्ण-शीर्ण हो चुका है कि स्थानीय प्रशासन ने इसे खतरनाक भवन घोषित कर दिया है और लोगों को इसके पास जाने की मनाही है।' उन्होंने बताया कि किशोर कुमार अपने छोटे भाई अनूप कुमार के साथ क्रिश्चियन कॉलेज के हॉस्टल की पहली मंजिल के एक कमरे में रहते थे।

वर्ष 1946 में इंदौर के प्रतिष्ठित क्रिश्चियन कॉलेज से किशोर कुमार ने ग्रैजुएशन किया था। क्रिश्चियन कॉलेज में इतिहास के प्रोफेसर स्वरूप वाजपेयी ने कहा, ‘किशोर कुमार हमारे कॉलेज में वर्ष 1946 से 1948 के बीच पढ़े थे। वह पढाई अधूरी छोडकर मुंबई चले गये थे लेकिन कैंटीन वाले के उन पर पांच रुपए बारह आने उधार रह गये थे।'   वाजपेयी ने यह भी बताया कि क्रिश्चियन कॉलेज परिसर का इमली का पेड़ नौजवान किशोर का पसंदीदा अड्डा था। वह कॉलेज में तड़ी मारकर इस पेड़ के नीचे यार-दोस्तों के लिए गाने की महफिल जमाने के लिये ‘कुख्यात' थे।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.