Top

कोयला आयात चालू वित्त वर्ष में और कम होगा: स्वरुप

कोयला आयात चालू वित्त वर्ष में और कम होगा: स्वरुपgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। घरेलू उत्पादन बढ़ने से चालू वित्त वर्ष के दौरान कोयले का आयात और घटने का अनुमान है। यह बात आज एक शीर्ष अधिकारी ने कही।

कोयला सचिव अनिल स्वरुप ने यहां एक समारोह में संवाददाताओं से कहा, ‘‘घरेलू स्तर पर कोयले की उपलब्धता बढ़ने के बीच कोयला आयात में गिरावट जारी रहेगी।'' उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष के पहले दो महीने के आंकड़ों से कोयला आयात में कटौती का संकेत मिलता है।

स्वरुप ने कहा, ‘‘मैं यह नहीं बता सकता कि कितनी मात्रा में इसमें कमी आएगी लेकिन इसमें कोई संदेह नहीं कि कोयला आयात घटेगा। पिछले वित्त वर्ष के दौरान हमने 24,000 करोड़ रुपए बचाए और हमें इस साल (2016-17) 40,000 करोड़ रुपए की बचत होने की उम्मीद है।'' कोयला सचिव ने कहा कि देश में कोयले की मांग उम्मीद के अनुरुप नहीं बढ़ी  है और उम्मीद जताई कि उदय योजना से आने वाले दिनों में कोयले की मांग बढ़ाने में मदद मिलेगी।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि, ‘‘हम उत्पादन बरकरार रखेंगे, हम कोयला उत्पादन लक्ष्य में संशोधन नहीं कर रहे हैं।'' सचिव ने कहा कि स्पंज आयरन समेत गैर नियमित क्षेत्र के लिए कोयला खानों  की मौजूदा नीलामी को उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली है।

कोल इंडिया की विदेश में कोयला खानों के अधिग्रहण के बारे में पूछने पर सचिव ने कहा, ‘‘दक्षिण अफ्रीका में जमीनी काम हो चुका है। अब अंतिम विचार विमर्श चल रहा है।'' कोयला आयात घरेलू ईंधन की पर्याप्त उपलब्धता के बीच पिछले महीने 19.2 प्रतिशत घटकर 1.63 करोड टन रहा।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.