1,000 रुपए और 500 रुपए के नोट बंद होने से मध्य प्रदेश में 500 कृषि उपज मंडियां बंद

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   9 Nov 2016 12:44 PM GMT

1,000 रुपए और 500 रुपए के नोट बंद होने से मध्य प्रदेश में 500 कृषि उपज मंडियां बंदमध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

भोपाल (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार रात को 500-1000 रुपए के नोट के प्रचलन पर रोक लगाए जाने के ऐलान के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने बुधवार को राज्य की सभी कृषि उपज मंडियां बंद रखी हैं।

राज्य सरकार की ओर से मंगलवार की देर रात लिए गए निर्णय के बाद जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि बुधवार को भारत सरकार के सभी सार्वजनिक बैंकों को बंद रखने के निर्णय को ध्यान में रखते हुए राज्य की सभी कृषि उपज मंडियों को बंद रखने का फैसला लिया गया।

प्रदेश में छोटी-बड़ी कुल पांच सौ मंडियां हैं।

राज्य सरकार ने यह निर्णय मंडी में क्रय-विक्रय के दौरान होने वाले 500-1000 के नोट के लेन-देन को रोकने व अन्य परेशानियों को ध्यान में रखकर लिया है, मगर उसका मंडी बंद रखने का संदेश किसानों तक पहुंचा होगा, इसमें संदेह है।

ज्ञात हो कि मंगलवार की रात को आठ बजे राष्ट्र के नाम दिए गए संदेश में प्रधानमंत्री मोदी ने 500-1000 के नोट के प्रचलन पर रोक लगाने का ऐलान किया था। उसके बाद बुधवार को बैंक और दो दिन एटीएम बंद रखने के निर्णय के बाद राज्य सरकार ने मंडियां बंद रखी हैं।



More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top