कृषि व्यापार

इनसेक्टिसाइड्स इंडिया ने ऋणमुक्त बनने का रखा लक्ष्य 

नई दिल्ली (भाषा)। कृषि रसायन बनाने वाली इनेसक्टिसाइड्स इंडिया वित्त वर्ष 2017-18 के आखिर तक ऋणमुक्त होने का लक्ष्य लेकर चल रही है। इसके तहत कंपनी नए उत्पाद पेश करते हुए अपनी बिक्री आय को अधिकतम करेगी।

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

बंबई शेयर बाजार (बीएसई) में सूचीबद्ध इस कंपनी पर 31 मार्च को कार्यशील पूंजी के साथ अनुमानित 200 करोड़ रुपए का ऋण बोझ था। इसमें से 30 करोड़ रुपए सावधि कर्ज है। इनसेक्टिसाइड्स इंडिया के प्रबंध निदेशक राजेश अग्रवाल ने कहा, “हम मौजूदा वित्त वर्ष के आखिर तक ऋणमुक्त बनना चाहते हैं। हम न्यूनतम निवेश के साथ अधिकतम रिटर्न हासिल करेंगे और मुनाफा बढृाने पर जोर देंगे।”

उन्होंने बताया कि इस साल कंपनी किसी भी तरह का बड़ा योजना नहीं करेगी सिवाय 30 करोड़ रुपए के उस निवेश के जिसमें कंपनी दाहेज, गुजरात में तकनीकी सिंथेसिस कारखाने का विस्तार करने वाली है। निदेशक ने कहा कि कंपनी की नए उत्पाद पेश करने की योजना बना रही है जो जून से शुरू होने वाले खरीफ सीजन में पेश करेगी। कंपनी घरेलू और निर्यात बिक्री में 20 प्रतिशत बढ़ोतरी का लक्ष्य लेकर चल रही है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।