कर्नाटक के साथ तीन महीने में संयुक्त उद्यम कंपनी गठित की जाएगी: प्रभु

कर्नाटक के साथ तीन महीने में संयुक्त उद्यम कंपनी गठित की जाएगी: प्रभुgaonconnection, कर्नाटक के साथ तीन महीने में संयुक्त उद्यम कंपनी गठित की जाएगी: प्रभु

बेंगलुरु (भाषा)। रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने आज कहा कि कर्नाटक में रेलवे परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए तीन महीने में राज्य सरकार के साथ एक संयुक्त उद्यम कंपनी गठित की जाएगी।

प्रभु ने कहा, ‘‘हम कर्नाटक सरकार के साथ मिलकर एक संयुक्त उद्यम कंपनी स्थापित करेंगे जिसमें कुछ इक्विटी हिस्सेदारी हम और कुछ राज्य सरकार खरीदेगा एवं इसके अलावा बजटीय स्रोतों के अतिरिक्त अन्य इक्विटी के माध्यम से कर्ज जुटाएंगे। यह कर्ज राजकोषीय जिम्मेदारी एवं कर्नाटक के बजट प्रबंधन कानून के तहत नहीं आएगा।''     

उन्होंने कहा कि इसके पीछे उद्देश्य है कि राज्य सरकारें रेलवे के साथ जुड़ें जिससे कि उनके राज्यों में रेलवे से जुडी आधारभूत संरचनाओं का तेजी से विकास हो सके।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आज घोषणा करता हूं कि अगले तीन महीनों के बेहतर हम इस कंपनी को परिचालन की स्थिति में ले आएंगे ताकि वह काम करना शुरु कर सके। मुख्यमंत्री ने मुझे इस पर बैठक करने के लिए आमंत्रित किया है। हम इस पर आगे बढ़ेंगे ताकि कंपनी का परिचालन सुनिश्चित करेंगे ताकि यह आधारभूत परियोजनाएं हाथ में ले सके।''     

फरवरी में केंद्र सरकार ने रेलवे को राज्य सरकारों के साथ इक्विटी आधार पर संयुक्त उद्यम बनाने की अनुमति दी थी ताकि उन क्षेत्रों की पहचान की जा सके जहां पर नई रेलवे लाइनों की आवश्यकता है। ये कंपनियां परियोजनाओं के जमीन का अधिग्रहण करें और कोष की व्यवस्था करने में मदद करें और संयुक्त रुप से इनकी निगरानी करें।

प्रभु ने यह बात बेंगलुरु सिटी स्टेशन का नाम बदलकर क्रांतिवीर सांगोली रायण्णा रेलवे स्टेशन करने के अवसर पर की। रायण्णा (1798-1831) कित्तूर की रानी चेन्नमा की सेना के प्रमुख थे और उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई की थी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top