क्षतिग्रस्त रेलिंग दे रही दुर्घटना को निमंत्रण

क्षतिग्रस्त रेलिंग दे रही दुर्घटना को निमंत्रणgaonconnection

इटावा। अधूरा बना रेलवे पुल आम राहगीरों के लिये मुसीबत बना हुआ है। कब किस समय सावधानी हटते ही दुर्घटना घटित हो जाये कोई भरोसा नहीं है। लोगों के लिये यह पुल साक्षात मौत के दर्शन के समान साबित हो रहा है।

जब से इस पुल का निर्माण कराया गया है, तब से बारिश के दौरान लोग जलभराव की समस्या से जूझ रहे हैं। पानी भरने के बाद आवागमन पूरी तरह बाधित हो जाता है। दो पहिया वाहन तो पुल से निकल ही नहीं पाते और चार पहिया वाहनों को निकालने में भी भारी परेशानी होती है। पुल के दोनों साइड आवागमन के लिये सड़क भी बनी है जिससे लोग अपने गंतव्य तक पहुंचते है। पुल की सुरक्षा को देखते हुए पुल के दोनों तरफ रेलिंग भी लगाई गई है वो भी खराब हो रही है। क्षतिग्रस्त रेलिंग की ओर किसी भी अधिकारी का ध्यान नहीं जा रहा है, जबकि दर्जनों लोगों द्वारा शासन-प्रशासन का ध्यान इस ओर आकर्षित किया जा रहा है फिर भी क्षतिग्रस्त रेलिंग की मरम्मत भी नहीं कराई जा रही है।

पुल के ऊपर जहां रेलिंग तो क्षतिग्रस्त है साथ ही मोड़ पर एक लावारि वाहन भी काफी समय से खड़ा है। जब भी कोई वाहन चालक मोड़ से निकलता है तभी एक तरफ क्षतिग्रस्त रेलिंग और दूसरी तरफ लावारि वाहन लोगों के लिये मुसीबत बन जाता है। यदि जहां चूक हुई तो वाहन सहित व्यक्ति पुल के नीचे गिरने से नहीं बच सकता। पुल के नीचे गिरने का मतलब है सीधी मौत।

रिपोर्टर- मसूद तैमूरी

 

 

 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top