कुछ बातें न बोली जाएं वही प्यार है : सीएम

कुछ बातें न बोली जाएं वही प्यार है : सीएमgaonconnection, कुछ बातें न बोली जाएं वही प्यार है : सीएम

लखनऊ। “कुछ बातें न बोली जाएं वही प्यार है” मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जब यह लाइन कही तो पूरा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा, और इसके साथ ही मुस्करा दीं मंच पर बैठीं डिंपल यादव।

आईएएस अधिकारी पार्थसारथी सेन शर्मा की पुस्तक ‘लव-साइड बाई साइड’ के हिन्दी अनुवाद ‘हम हैं राही प्यार के’ के विमोचन के दौरान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बड़े चुटीले अंदाज में वह बातें भी कह दीं जिनसे सभी लोग जीवन में कभी न कभी सभी का वास्ता रहा होगा। 

पुस्तक के टाइल पर उन्होंने कहा, “एक बार पहला पन्ना देख के हर कोई पढ़ना जरूर चाहेगा। कभी-कभी एक लाइन में सब समझ आ जाता है।” इस दौरान मुख्यमंत्री ने कई विदेशी लेखकों की चर्चित पुस्तकों पर विस्तार से बात भी की। हालांकि इसके आगे उन्होंने व्यंग्य में जोड़ते हुए कहा, “हम समाजवादियों से ऐसी कोई उम्मीद नहीं करता कि हम ऐसी भी किताबें पढ़ सकते हैं।” 

पुस्तक के लेखक और आईएएस अधिकारी पार्थ सारथी सेन शर्मा के बारे में भी बेहद सरलता से मुख्यमंत्री ने बताया, “जब मैंने पहली इनकी अंग्रेजी की किताब देखी तो सोच में पड़ गया कि एक बेहद सख्त अधिकारी और ऐसे विषय पर किताब? अब यह हिन्दी में आ गई है तो काफी लोग पढ़ सकेंगे।” आगे कहते हैं, “अगर हम साहित्य को भूल जाएं तो अपनी परंपराओं से दूर हो जाएंगे। हमारे देश में गाने चांद के आसपास होते हैं, जबकि अंग्रेजी गाने ‘सन शाइन’ के आसपास। बस दोनों में यही फर्क है।” 

वहीं, कन्नौज से सांसद डिंपल यादव ने भी मजाकिया लहजे में कहा, “हमें भरोसा है कि यह किताब लिखने की प्रेरणा उनकी (लेखक) की पत्नी से आई होगी।

Tags:    India 
Share it
Top