कूड़ा घर नहीं मिनी सचिवालय है तस्वीर में दिख रहा ये भवन

कूड़ा घर नहीं मिनी सचिवालय है तस्वीर में दिख रहा ये भवनgaonconnection

बांसी (सिद्धार्थनगर)। प्रशासन की लापरवाही और उदासीनता के कारण गाँवो में लाखों रुपए खर्च कर बनाए गए मिनी सचिवालय बेमतलब साबित हो रहे हैं। इन पर किसी जिम्मेदार अधिकारी की दृष्टि नहीं जाती। परिणाम यह हो रहा है कि उक्त भवन में कहीं भूसा भरा जा रहा है तो कहीं गाँव वालों ने इन भवनों पर कब्जा जमाकर उसमें रहना शुरू कर दिया है।

विकास खण्ड बांसी के गाँव बडहरा में मिनी सचिवालय का निर्माण लाखों रुपए खर्च करके किया गया। इसके निर्माण की मंशा यह थी कि गाँव में टीकाकरण, पल्स पोलियो, बाल विकास बैठक, या ग्राम समाज की बैठक इसी भवन में सम्पन्न किया जाए, जिससे गाँव वालों को अपने काम के लिए कहीं दूर न जाना पड़े। पर परिणाम ठीक इसके विपरीत हो गया।

भवन का कोई प्रयोग न होने के कारण इसे लावारिस अवस्था में छोड़ दिया गया है। इस भवन तक जाने का कोई रास्ता भी नहीं है। भवन में ग्रामीणों ने कंडा, भूसा और लकड़ी आदि रखकर कब्जा कर लिया है। जिससे शासन की मंशा तार-तार हो रही है। ग्राम निवासी राम नरायन, बैठोले, रामलखन आदि ने इसे ठीक कराने की मांग की है। 

Tags:    India 
Share it
Top