लापरवाही पर प्रदेश के कई ज़िलों के थाना प्रभारी नपे

लापरवाही पर प्रदेश के कई ज़िलों के थाना प्रभारी नपेगाँव कनेक्शन

लखनऊ। पुलिस महानिदेशक द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन न करने पर और कार्य में ढिलाई बरतने पर करीब दर्जन भर सिपाहियों पर कार्रवाई हुई है। इनमें से कई सिपाहियों को लाइन हाजिर और कइयों को निलंबित कर दिया गया है।

पुलिस महानिदेशक कार्यालय ने जानकारी देते हुए बताया कि जौनपुर के थाना सरपतहा के थानाध्यक्ष रमेश यादव को लूट की घटना का अनावरण करने में शिथिलता का दोषी मिलने पर लाइन हाजिर कर दिया गया। कानपुर के थाना चकेरी प्रभारी निरीक्षक राजीव द्विवेदी व उपनिरीक्षक प्रभारी चौकी शनिगवां में हुई लूट व गैंगरेप की घटना में समुचित कार्यवाही करने में लापरवाही के आरोप में लाइन हाजिर किया गया। सहारनपुर के थाना गंगोह के प्रभारी निरीक्षक बृजेन्द्र सिंह यादव को गौकसी की घटना पर अंकुश न लगा पाने व घटना के बाद मौके पर समय से न पहुंचने के आरोप में विवेचना शाखा में स्थानान्तरित कर दिया गया। 

वहीं, जालौन के थाना कदौरा के उपनिरीक्षक विनोद कुमार मिश्रा को गौकशी की घटना पर अंकुश न लगा पाने के कारण निलंबित कर दिया गया है। हरदोई के थाना हरियांवा के उपनिरीक्षक राजेश कुमार को जनता से अभद्रता करने के आरोप में पुलिस लाइन स्थानान्तरण करते हुये चेतावनी दी गयी है। इधर, लखनऊ में थाना चिनहट के थानाध्यक्ष शशिशेखर यादव, गोमतीनगर के उपनिरीक्षक श्यामबाबू शुक्ला और विभूतिखण्ड के थानाध्यक्ष ओमप्रकाश तिवारी को अपराध नियन्त्रण में ढिलाई करने के कारण लाइन हाजिर कर पुलिस ऑफिस सम्बद्ध किया गया है।

मथुरा जि़ले के थाना महावन के प्रभारी निरीक्षक देवी नन्दन को मोहल्ला व्यापारियान में दुघर्टना के संबध में अभियोग पंजीकृत न करने व थाने पर तोडफ़ोड़ की घटना घटित होने के संबंध में प्रथम दृष्टया दोषी पाये जाने पर निलंबित किया गया। पीलीभीत के थानाध्यक्ष सुनगढ़ी ब्रजेश सिंह व उपनिरीक्षक इन्द्रजीत सिंह भदौरिया को लापरवाही के कारण निलंबित किया गया। वहीं खीरी के थाना सिंगाही के उपनिरीक्षक जय प्रकाश यादव को तीन लड़कियों के अपहरण की घटना के अनावरण में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित किया गया। इसी तरह आगरा के थाना एत्मादपुर के प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेन्द्र कुमार सिरोही और प्रतापगढ़ के थाना महेशगंज के उपनिरीक्षक निशीकांत राय को लापरवाही के आरोप में निलंबित किया गया। 

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top