लखनऊ के पत्रकारपुरम में भीषण आग

लखनऊ के पत्रकारपुरम में भीषण आगगाँवकनेक्शन

देखते ही देखते खाक हो गई लखनऊ में पत्रकारपुरम की मंडी

लखऩऊ। गोमतीनगर इलाके में शनिवार को शाम करीब 4:30 बजे भीषण आग लग गई। आग से केंद्रीय विद्यालय के सामने स्थित मंडी पूरी जलकर खाक हो गई। दमकल की 15 से ज्यादा गाड़ियां तीन तरफ से आग बुझाने में जुटी थीं। लेकिन शाम के छह बजे तक आग बुझाई नहीं जा सकी।

पत्रकारपुरम में विजयश्री नाम की बिल्डिंग है, जिसमें एक्सिस बैंक और ओरासिस ब्यूटी पार्लर समेत कई बड़े ऑफिस हैं। इसके पीछे स्थित फल, किराना, सब्जी आदि की मंडी है। इसी बिल्डिंग में छत के ऊपर बिल्डिंग का काम चल रहा था। उसी से निकली चिंगारी से आग लगना बताया जा रहा है। विजय श्री बिल्डिंग और मंडी से सटा पेट्रोल पंप है। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस, प्रशासन और दमकल में हड़कंप मच गया। गनीमत रही पेट्रोल पंप के कर्मचारियों ने आग लगते ही उस पर काबू पाने की कोशिश शुरू कर दी और दमकल कर्मचारियों ने भी कोशिश करके आग पेट्रोल पंप तक पहुंचने नहीं दी। आग बुझती देख छत से नीचे उतरे पेट्रोल पंप के कर्मचारी प्रकाश ने बताया, “भगवान का शुक्र था बस बच गए। पंप पर भारी मात्रा में पेट्रोल-डीजल था अगर कुछ होता तो बड़ा हादसा हो जाता।”

विजय श्री बिल्डिंग के पास होटल चलाने वाले प्रकाश (50 वर्ष) बताते हैं, “आग सबसे पहले मंडी में स्थित रुई की दुकान में लगी थी तो जाहिर सी बात है ऊपर बिल्डिंग करने के दौरान ही चिंगारी गिरी होगी।”

आग की चपेट में आने से मंडी की 100 से ज्यादा अस्थाई दुकानें जलकर खाक हो गईं। आग बुझाने और बीच-बीच में अपना सामान समेटते मंडी के दुकानदार राजेश मौर्या (35 वर्ष) ने बताया, “सब इस बिल्डिंग वाले की गलती है। हमारा लाखों रुपये का नुकसान हुआ है।”

आग की सूचना पर कुछ ही देर में दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंच गई थीं, लेकिन आग बेकाबू होते देख शहर के साथ ही बीकेटी, सरोजनीनगर दमकल केंद्रों के साथ ही टाटा की गाड़ी भी बुलानी पड़ी। शाम साढ़े छह बजे तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं मिली थी।

आग बुझाने में लगे कर्मचारियों को आग बुझाने के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। दमकल की गाड़ी के एक ड्राइवर ने नाराजगी जताते हुए कहा, “लोगों की भीड़ आग बुझाने में बड़ी बाधा है। लोग फोटो खींचने और देखने के लिए अंदर तक आ जाते हैं अब हम आग बुझाएं या लोगों पर काबू पाएं। स्थानीय लोगों को समझना चाहिए।”

Tags:    India 
Share it
Top