लोकसभा में सदस्यों ने बाढ़ की गंभीर स्थिति का मुद्दा उठाया

लोकसभा में सदस्यों ने बाढ़ की गंभीर स्थिति का मुद्दा उठायाgaonconnection

नई दिल्ली (भाषा)। लोकसभा में गुरुवार को सदस्यों ने देश के विभिन्न क्षेत्रों में आयी बाढ़ का मुद्दा उठाया और सरकार से तत्काल राहत और बचाव कार्यों को तेजी से आगे बढ़ाने की मांग की।

शून्यकाल के दौरान BJP के ददन मिश्रा ने बाढ़ के कारण उत्पन्न गंभीर स्थिति का जिक्र करते हुए कहा कि हर साल बारिश के बाद नेपाल से पानी छोड़े जाने के कारण श्रावस्ती, बलरामपुर समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति अत्यंत विकट हो जाती है।

उन्होंने कहा कि इस बार भी बाढ़ के कारण लोग गंभीर स्थिति का सामना कर रहे हैं। गाँव दर गाँव जलमग्न हो गया है। लोग परेशान है। इस स्थिति पर ध्यान दिया जाए और लोगों को राहत प्रदान करने की व्यवस्था की जाए।

BJP के हरीश द्विवेदी ने कहा कि पूरा पूर्वी उत्तर प्रदेश हर साल बाढ़ के कारण गंभीर संकट का सामना करने को मजबूर होता है। गोरखपुर, श्रावस्ती, बस्ती, गोंडा बाढ़ की विकट स्थिति का सामना कर रहा है। हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि बाढ़ की समस्या का स्थायी समाधान निकालने की पहल की जाए।

द्विवेदी ने कहा कि बाढ़ के कारण हर वर्ष काफी नुकसान होता है और जानमाल की क्षति होती है। ऐसे में स्थायी और ठोस समाधान निकालना जरुरी है।

BJP के जगदम्बिका पाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड बाढ़ की गंभीर स्थिति का सामना कर रहा है। केंद्र सरकार अपनी ओर से पहल कर रही है लेकिन राज्य सरकारों की ओर से अपेक्षित पहल नहीं हो रही है।

उन्होंने कहा कि बाढ़ से सुरक्षा के लिए बांधों का बेहतर रखरखाव महत्वपूर्ण होता है लेकिन उत्तरप्रदेश में बांधों का रखरखाव नहीं हो रहा है जिसके कारण स्थिति काफी गंभीर है।

Tags:    India 
Share it
Top