भारत-पाकिस्तान के कलाकारों में सर्जिकल स्ट्राइक शुरू

Kushal MishraKushal Mishra   2 Oct 2016 7:57 PM GMT

भारत-पाकिस्तान के कलाकारों में सर्जिकल स्ट्राइक शुरूभारत-पाकिस्तान

रिपोर्टर-कुशल मिश्रा

लखनऊ। भारतीय सेना की ओर से सीमापार सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अब भारत-पाकिस्तान के कलाकारों पर भी सर्जिकल स्ट्राइक शुरू हो गई है। दोनों देशों ने अपनी-अपनी सेनाओं के प्रति एकजुटता दिखाते हुए फिल्मों और कलाकारों पर हमला बोल दिया है। एक तरफ भारत ने जहां देश से पाकिस्तानी कलाकारों को देश छोड़ने के लिए आवाज उठाई है, वहीं पाकिस्तान ने भी भारतीय फिल्मों पर रोक लगा दी है। आइये आपको बताते हैं दोनों देशों के कलाकारों के बीच किस तरह चल रही है यह सर्जिकल स्ट्राइक।

महाराष्ट्र से उठी पाक कलाकारों के खिलाफ आवाज

भारतीय सेना की सीमापार सर्जिकल स्ट्राइक के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) और शिव सेना के राज ठाकरे ने पाकिस्तानी कलाकारों के खिलाफ एक बार फिर आवाज उठाई है। पाकिस्तान कलाकारों का विरोध करते हुए मनसे ने सभी पाकिस्तानी कलाकारों को 48 घंटे के भीतर भारत छोड़ देने की धमकी दी थी। सिर्फ इतना ही नहीं, निर्देशक करण जौहर की आगामी फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ फिल्म में पाकिस्तान कलाकार फवाद खान को लिए जाने के विरोध में मनसे ने करण जौहर के ऑफिस के बाहर जमकर विरोध प्रदर्शन जताया है।

बचाव के लिए सामने आए सलमान खान

पाक कलाकारों के खिलाफ विरोध बढ़ने पर अभिनेता सलमान खान सामने आए हैं। सलमान खान ने पाकिस्तानी कलाकारों का समर्थन किया और कहा कि पाक कलाकार कोई आतंकवादी नहीं हैं, वे सिर्फ कलाकार हैं। यह दोनों अलग-अलग बातें हैं। उन्होंने कहा कि पाक कलाकार भारत वीजा से आते हैं और सरकार ही उन्हें वीजा देती है। वहीं, श्याम बेनेगल समेत कई भारतीय कलाकारों ने पाक कलाकारों का समर्थन किया है।

राज ठाकरे ने सलमान पर किया पलटवार

इसके बाद मनसे, शिवसेना समेत महाराष्ट्र की पार्टियां सलमान खान के बयान पर भड़क उठी हैं। राज ठाकरे ने सलमान खान को पाकिस्तान जाकर काम करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि अगर सलमान खान को पाकिस्तानी कलाकारों की तारीफ करनी है तो वह पाकिस्तान में ही काम करके दिखाएं। दूसरी ओर शिवसेना के संजय राउत ने भी कहा है कि सलमान के पिता को चाहिए कि सलमान को घर में बंद कर दें ताकि वे अपनी ज़ुबान न खोलें। ऐसी स्थिति में भारत के कलाकार और पार्टियां दोनों पक्षों में बंटी नजर आ रही है।

पाकिस्तान ने भारतीय फिल्मों को किया बैन

कलाकारों पर सर्जिकल स्ट्राइक का असर पाकिस्तान में साफ नजर आया है। पाकिस्तान में लाहौर के सुपर सिनेमा ने फेसबुक में लिखा है कि हम अपनी पाक सेना का समर्थन करते भारतीय फिल्मों का विरोध करते हैं। पाकिस्तान ने भारतीय फिल्मों का प्रदर्शन करने से रोक दिया है। इसके बाद पाकिस्तान में कराची के न्यूप्लेक्स सिनेमा ने भी सुपर सिनेमा का समर्थन किया है और भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है। पाक के एट्रियम सिनेमा ने भी समर्थन किया है।

डीवीडी फिल्मों पर भी सरकार से रोक की मांग उठाई

पाकिस्तान ने सुपर सिनेमा समेत कई सिनेमाघरों ने पाकिस्तान से भारतीय फिल्मों की सीडी और डीवीडी पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने की मांग की है। बता दें कि पाकिस्तान में भारतीय फिल्में सिनेमाघरों में बड़ी हिट तो रहती हैं, साथ ही सीडी और डीवीडी में भारतीय फिल्मों का बड़ा कारोबार होता है। फिलहाल पाक मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों ने दोनों देशों के बीच स्थिति सुधरने तक भारतीय फिल्मों पर रोक लगा दी है।

पाकिस्तान को झेलना पड़ेगा बड़ा नुकसान

अगर दोनों देशों के बीच जल्द ही रिश्तों में मिठास नहीं आती है तो पाकिस्तान के फिल्म कारोबार को भारतीय फिल्में न दिखाने पर 70 प्रतिशत नुकसान झेलना पड़ेगा। फिलहाल पाकिस्तान में अभी सिर्फ पाकिस्तानी और हॉलीवुड फिल्में ही दिखाई जा रही हैं। गौर करने वाली बात यह है कि अगर भारत-पाक के रिश्ते अगर जल्द ही नहीं सुधरे तो इसका सीधा नुकसान पाकिस्तान में दिखाई देगा।

फिल्म ‘सुल्तान’ ने पाकिस्तान में बनाया था रिकॉर्ड

बता दें कि बीतें दिनों सलमान खान की फिल्म सुल्तान ने पाकिस्तान में नया रिकॉर्ड बनाया था। सुल्तान फिल्म ने महज पांच दिनों में पाकिस्तान में 15 करोड़ से भी अधिक का कारोबार किया था। ईद के मौके पर रिलीज हुई इस फिल्म भारतीय फिल्म जगत के लिए तगड़ा कारोबार दिया था।

भारत के बोल

पाकिस्तानी कलाकार कोई आतंकवादी नहीं है। यह दोनों बातें अलग-अलग हैं। वे वीजा लेकर ही भारत आते हैं और भारत सरकार ही उन्हें वीजा देती है।
सलमान खान, अभिनेता

भारतीय कलाकारों को पहले देश के बारे में सोचना चाहिए। सलमान खान को भारत सरकार ने काम करने का अधिकार दिया है। अगर सलमान को पाकिस्तानी कलाकारों की ही तारीफ करनी है तो वह पाकिस्तान में काम करें और वहां पर वर्क परमिट लेकर दिखाएं। कलाकार कोई आसमान से नहीं टपकते हैं और मैं भी एक कलाकार रहा हूं।
राज ठाकरे, शिवसेना

सलमान के पिता सलीम खान को सलमान खान को घर में बंद कर देना चाहिए ताकि वह ज्यादा न बोलें।
संजय राउत, शिवसेना

पाकिस्तान के बोल

हमारा विरोध तब तक जारी रहेगा, जब तक दोनों देशों के रिश्ते एक बार फिर से सामान्य नहीं हो जाते। फिलहाल हम भारतीय फिल्में पाकिस्तान में नहीं दिखाएंगे और हमारा विरोध स्थिति सुधरने तक जारी रहेगा।
नदीम मांडवीवाला, प्रसिद्ध फिल्म प्रदर्शक

भारत सरकार पाक कलाकारों को पूरी सुरक्षा उपलब्ध नहीं कराती है और न ही पाकिस्तानी फिल्मों को तवज्जो देती है। हमारा विरोध तब तक जारी रहेगा जब तक भारत-पाक के संबंध सामान्य नहीं होते हैं।
सुपर सिनेमा, फेसबुक पोस्ट में

फिल्म की शूटिंग

पाकिस्तान फिल्म इंडस्ट्री को लग रहा डर

फिलहाल पाक फिल्म इंडस्ट्री को 70 प्रतिशत का नुकसान उठाने पर एक तरफ डर भी लग रहा है। पाकिस्तान के जाने-माने एट्रियम मल्टीप्लेक्स श्रृंखला के मालिक नदीम मंडविवल्ला का कहना है कि भारतीय फिल्मों के पाकिस्तान में प्रदर्शित होने से पाकिस्तान की फिल्म इंडस्ट्री को एक नई ऊंचाई मिली है। उन्होंने कहा कि अगर यह मसला जल्द नहीं सुलझता है और यह प्रतिबंध स्थायी रहता है तो पाकिस्तान की फिल्म इंडस्ट्री को बड़ा झटका लगेगा। यहां तक कि कई मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघर बंद होने के कगार पर पहुंच जाएंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top