सिर्फ फैशन के तौर पर न हो नारीवाद पर चर्चा: कल्कि कोचलिन

सिर्फ फैशन के तौर पर न हो नारीवाद पर चर्चा: कल्कि कोचलिनमहिला सशक्तिकरण अधिकारों के लिए  हमेशा आवाज़ उठाती हैं कल्कि

नई दिल्ली (आईएएनएस)। अभिनेत्री कल्कि कोचलिन का मानना है कि फिल्म उद्योग में समानता पर बातचीत करना शानदार है और नारीवाद पर चर्चा जारी रखना आवश्यक है। कल्कि ने कहा, ‘अच्छा है कि यह (नारीवाद) चर्चा में आया। मुझे लगता है कि यह हमारा काम है और इसके सिर्फ फैशन के तौर पर नहीं बल्कि इस पर बातचीत जारी रखने की आवश्यकता है।’
वह ‘देव डी’, ‘शैतान’, ‘शंघाई’ और ‘मार्गरीटा विद ए स्ट्रॉ’ जैसी फिल्मों में काम कर चुकीं अभिनेत्री ने कहा, ‘नारीवाद निश्चित रूप से आगे आ रहा है क्योंकि कार्य बल महिलाओं के साथ है।’
उन्होंने कहा, ‘यह नई चीज है। इसके चारों और बहुत से सवाल हैं।’
कल्कि बड़े पर्दे पर ‘कैंडीफ्लिप’, ‘जिया और जिया’ और ‘ए डेथ इन द गंज’ जैसी फिल्मों में दिखाई देंगी।

Share it
Top