जन्मदिन विशेष : जब किशोर दा ने उधार लिए थे 5 रुपये 12 आना

Mohit AsthanaMohit Asthana   4 Aug 2018 5:40 AM GMT

जन्मदिन विशेष : जब किशोर दा ने उधार लिए थे 5 रुपये 12 आनाकिशोर कुमार

लखनऊ। हिन्दी सिनेमा के हरफनमौला किशोर कुमार ने हर तरह के गीत दिये जो हमारी जिंदगी से कहीं न कहीं जुड़े हैं। शायद यही वजह है कि आज भी हम किशोर दा के गाये गीतों को नहीं भुला पाये है। एक वक्त था जब प्रेमी अपनी प्रमिका को किशोर कुमार के गाने गाकर इंप्रेस करता था।

किशोर कुमार के लिये एक बात कही जाती है कि किशोर पहले पैसा लेकर ही काम करते थे और अगर पैसा नहीं मिला तो काम अधूरा छोड़ देते थे। उन्होंने अपने घर के सामने एक बोर्ड टंगवा रखा था जिसमें लिखा था 'किशोर से सावधान'।

ये भी पढ़ें- कौन थे किशोर कुमार ? इस महान सिंगर के बारे में जानिए सब कुछ

कैंटीन वाले से लिये थे 5 रुपये 12 आने उधार

साल 1958 में किशोर की एक फिल्म आई जिसका नाम था 'चलती का नाम गाड़ी' उस फिल्म में एक गाना था जिसमें पांच रुपये बारह आने का जिक्र है उस गाने के पीछे एक दिलचस्प किस्सा है कि कालेज के दिनों में किशोर ने कैंटीन वाले से 5 रुपये 12 आने उधार लिये थे जिसे लेकर अक्सर कैंटीन वाला इन्हें टोका करता था और किशोर दा कैंटीन वाले को टाल देते थे। जब निर्माता सत्येन बोस ने ये फिल्म बनाई तब उसमें इस गाने को भी डाला गया।

आकाशवाणी पर किशोर के गानों पर लग गई थी रोक

ये बात शायद ही लोगों को पता हो कि साल 1975 में देश में आपातकाल के समय एक सरकारी समारोह में भाग न लेने के कारण तत्कालीन सूचना एवं प्रसारण मंत्री विद्वयाचरण शुक्ला ने किशोर के गीतों को आकाशवाणी के प्रसारण पर रोक लगा दी थी। इतना ही नहीं किशोर के घर आयकर का छापा भी डाला गया। बावजुद उसके किशोर दा ने आपातकाल का समर्थन नहीं किया।

ये भी पढ़ें- पुण्यतिथि विशेष: ऐसा फनकार न कभी था न होगा

जब प्राण को कहा खलनायक

एक किस्सा मशहूर है कि जब फिल्म 'उपकार' में प्राण पर दर्शाये गये गाने के लिये किशोर को कहा गया तो उन्होंने ये कहकर मना कर गाने से इंकार कर दिया कि मै गाने हीरो के लिये गाता हूं किसी खलनायक के लिये नहीं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top