वह शास्त्रीय नृत्य की बड़ी नृत्यांगना थी, स्टेज पर नाच रही थी अचानक गिरी और ............. 

वह शास्त्रीय नृत्य की बड़ी नृत्यांगना थी, स्टेज पर नाच रही थी अचानक गिरी और ............. प्रतीकात्मक फोटो।

कोच्चि (भाषा)। पारावुर के निकट मंदिर महोत्सव में अपने गुरु के साथ मंच पर शास्त्रीय नृत्य की प्रस्तुति दे रही एक नृत्यांगना ओमनाकुट्टन की मौत हो गई।

स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक कल दर्शक वेदक्केकरा कत्तातुरत नंबियात भद्रकाली मंदिर में भरतनाट्यम का आनंद ले रहे थे कि तभी नृत्यांगना ओमनाकुट्टन (48 वर्ष) मंच पर गिर गईं। उस समय दर्शकों ने सोचा कि यह भी नृत्य का हिस्सा है।

खबर में यह कहा गया है कि नृत्यांगना के गुर सीवन माल्यंकर ने ओमनाकुट्टन को अचानक संतुलन खोते हुए और गिरते हुए देखा। गुरु ने प्रस्तुति रोक दी और पर्दा खींचने का इशारा किया।

ओमनाकुट्टन को पारावुर के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। स्थानीय टीवी चैनलों के वीडियो में नृत्यांगना को गिरते हुए दिखाया गया है। ओमनाकुट्टन शास्त्रीय नृत्य के क्षेत्र में पिछले 25 साल से सक्रिय थीं और उन्होंने बिहार में मंच पर 400 प्रस्तुतियां दी थीं जो राष्ट्रीय साक्षरता मिशन का हिस्सा था।

Share it
Top