गोदरेज प्रापर्टीज के हाथों बिका अभिनेता राज कपूर का आर.के. स्टूडियो

राज कपूर ने 1948 में इस स्टूडियो की स्थापना की थी। लंबे समय से इस स्टूडियो का सिनेमा कार्यों के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा रहा था। सितंबर 2017 में आग लगने से यह स्टूडियो लगभग पूरी तरह से बर्बाद हो गया था।

गोदरेज प्रापर्टीज के हाथों बिका अभिनेता राज कपूर का आर.के. स्टूडियो

लखनऊ। गुजरे जमाने के मशहूर बॉलीवुड अभिनेता राज कपूर के नाम पर बनी आर. के. स्टूडियो को आखिरकार बेच दिया गया। मुंबई के चेंबूर स्थित इस कपूर परिवार के इस स्टूडियो को निजी क्षेत्र की कंपनी गोदरेज प्रापर्टीज ने खरीदा। कंपनी ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की।

राज कपूर ने 1948 में इस स्टूडियो की स्थापना की थी। लंबे समय से इस स्टूडियो का सिनेमा कार्यों के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा रहा था। सितंबर 2017 में आग लगने से यह स्टूडियो लगभग पूरी तरह से बर्बाद हो गया था। इस स्टूडियो ने बालीवुड को कई बॉक्स आफिस हिट फिल्में दी हैं। इसमें सबसे पहले 1948 में 'आग' फिल्म की शूटिंग हुई, उसके बाद 1949 में बरसात फिल्म बनी जो बॉक्स आफिस पर काफी सफल रही।

गोदरेज प्रापर्टीज ने कहा, "2.20 एकड़ में फैले इस स्टूडियो से करीब 33 हजार वर्गमीटर भूमि का बेहतर इस्तेमाल हो सकेगा। इसमें आधुनिक लग्जरी अपार्टमेंट और लग्जरी खुदरा कारोबार क्षेत्र विकसित किया जायेगा। हालांकि, कंपनी ने सौदे की राशि की जानकारी नहीं दी, लेकिन उद्योग जगत के सूत्रों ने स्थिति और आकार को देखते हुए सौदा 50-60 करोड़ रुपये में होने का अनुमान व्यक्त किया है।

कंपनी के कार्यकारी चेयरमैन पिरोजशाह गोदरेज ने कहा कि कंपनी ने चेंबूर स्थित इस ऐतिहासिक स्थल को अपने पोर्टफोलियो में शामिल किया है। राजकपूर के सबसे बड़े बेटे रणधीर कपूर ने इस सौदे पर कहा, "चेंबूर स्थित यह संपत्ति मेरे परिवार के लिए बेहद महत्वपूर्ण रही है क्योंकि यहां से कई दशक तक आर. के. स्टूडियो का परिचालन हुआ है। हमने इस संपत्ति को लेकर नई कहानी लिखने के लिए गोदरेज को चुना है।"

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top