एडेले के नाम हुए ग्रैमी के शीर्ष पुरस्कार, गर्भवती बेयोंसे ने मचाई धूम 

एडेले के नाम हुए ग्रैमी के शीर्ष पुरस्कार, गर्भवती बेयोंसे ने मचाई धूम ब्रिटेन की गायिका एडेेले।

लॉस एंजिलिस (भाषा)। बेयोंसे ने जबरदस्त प्रस्तुति देकर धूम मचाई लेकिन यह रात ब्रिटेन की गायिका एडेेले (28 वर्ष) के नाम रही। सबसे महत्वपूर्ण पुरस्कार मसलन एल्बम ऑफ दी ईयर, रिकॉर्ड ऑफ दी ईयर और सॉन्ग ऑफ दी ईयर एडेले को मिले।

एडेेले को जिन पांच श्रेणियों में नामित किया गया था उन्हें उन सभी में जीत हासिल हुई, इसमें बेस्ट पॉप सोलो परफॉर्मेंस और बेस्ट वोकल एल्बम शामिल हैं. बेयोंसे के एल्बम ‘लेमोनेड' का नामांकन नौ श्रेणियों में किया गया था लेकिन उन्हें केवल दो श्रेणियों- बेस्ट अर्बन कंटेंपररी एल्बम और बेस्ट म्यूजिक वीडियो से ही संतोष करना पड़ा।

एडेले को लगातार दूसरे साल समारोह में तकनीकी परेशानियों का सामना करना पड़ा। उन्होंने अपने भाषण में क्वीन बे (बेयोंसे को उनके प्रशंसक इसी नाम से बुलाते हैं) का भी जिक्र किया। एडेले ने बेयोंसे से कहा, ‘‘हम सभी कलाकार आपके प्रशंसक हैं, आप हमारे लिए रौशनी हैं, मेरी क्वीन मेरी आदर्श, क्वीन बी। मैं आपका सम्मान करती हूं।''

एल्बम ऑफ दि ईयर का पुरस्कार स्वीकार करते हुए ऐडेले ने कहा, ‘‘आपने जिस तरह मेरे दोस्तों को महसूस करवाया, मेरे अश्वेत दोस्तों को जो महसूस करवाया वह हौसला बढ़ाने वाला है।''

59वें एन्युअल ग्रैमी में गर्भवती बेयोंसे भले ही ऐडेले से पिछड़ गई हों लेकिन ‘लव ड्रॉट'' और ‘‘सेंडकेटल्स'' पर उनकी प्रस्तुति ने समारोह में जान डाल दी।

59वें एन्युअल ग्रैमी अवार्ड में पेरिस जैक्सन।

तबलावादक संदीप दास को सम्मान

विश्व संगीत श्रेणी में ग्रैमी जीतने वाले यो यो मा के एल्बम ‘सिंग मी होम' का हिस्सा रहे भारत के तबलावादक संदीप दास ने पुरस्कार जीतने के बाद फोन पर कहा, ‘‘तीसरी बार हमारी किस्मत ने साथ दिया। मैं जो हूं, जहां से आता हूूं (सांस्कृतिक या संगीत पृष्ठभूमि) उस पर मुझे गर्व है. मैं आशा करता हूं कि मेरे अपने देश में संगीत को और तवज्जो मिले, संगीत हमारे खून में है।''

59वें एन्युअल ग्रैमी अवार्ड में मशहूर अदाकार व गायिका जेनिफर लोपेज।

अनुष्का शंकर के हाथ से छठी बार फिसला ग्रैमी पुरस्कार

लॉस एंजिलिस (भाषा)। भारतीय सितारवादक अनुष्का शंकर छठी बार भी अपने विश्व संगीत नामांकन को ग्रैमी पुरस्कार में तब्दील करने में नाकामयाब रहीं। वायलिन वादक यो यो मा ने उन्हें मात देते हुए इस साल का ग्रैमी अपने नाम किया।

यो यो मा को सर्वश्रेष्ठ विश्व संगीत एल्बम श्रेणी में उनकी एल्बम ‘सिंग मी होम' के लिए नवाजा गया। उनका यह 19वां ग्रैमी पुरस्कार है। अनुष्का (35 वर्ष) को उनकी एल्बम ‘लैंड ऑफ गोल्ड' के लिए नामित किया गया था जो वैश्विक शरणार्थी संकट पर आधारति है। संगीत समारोह में अनुष्का अपने पति एवं ब्रिटिश निर्देशक जो राइट के साथ पहुंची थी।

भारतीय सितारवादक अनुष्का शंकर।

उन्होेंने अपने पति जो राइट के बारे में ट्वीट किया, ‘‘ काफी उत्साहित हूं कि यह शख्स आज रात मेरे साथ है...पहली बार इनके पास मेरे साथ आने का समय था...। '' अनुष्का ने यहां सब्यसाची का लाल रंग का गाउन पहना था।

अनुष्का मशहूर सितार वादक पंडित रवि शंकर की बेटी हैं. 20 साल की उम्र में उन्हें पहली बार ग्रैमी पुरस्कार के लिए नामित किया गया था। बहरहाल उनके दिवंगत पिता के नाम दो व्यक्तिगत और दो साझा ग्रैमी पुरस्कार हैं।

बिना पेंट पहने ग्रैमी अवार्ड लेने स्टेज पर पहुंचे...

लॉस एंजिलिस (भाषा)। ‘ट्वेन्टी वन पायलट्स' की मशहूर जोड़ी 59वें वार्षिक ग्रैमी समारोह में अपना पहला ग्रैमी पुरस्कार लेने बिना पेंट के पहुंची। ‘स्ट्रेस आउट' के लिए उन्हें इस पुरस्कार से नवाजा गया। सर्वश्रेष्ठ पॉप जोड़ी समूह प्रस्तुति श्रेणी में पुरस्कार की घोषणा होते ही टेलर जोसफ और जोश डन ने सीट से खड़े होकर अपनी पेंट उतार दी और अपने बॉक्सर्स में ही स्टेज पर गए।

‘ट्वेन्टी वन पायलट्स’ की जोड़ी टेलर जोसफ और जोश।

अपने भाषण में टेलर ने कहा, ‘‘ यह कहानी कुछ साल पहले ओहायो के कोलंबस में शुुरू हुई थी. जोश के जुड़ने से पहले, जब मैं संगीत से पैसे कमा पाता था।'' उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने उन्हें फोन किया और कहा ‘‘ जोश क्या तुम मेरे किराए के घर में आकर ग्रैमी देखना चाहोगे? जब हम ग्रैमी देख रहे थे तो हमने नोटिस किया कि हम सब अंडरवियर में थे और सच में उस समय जब हम कुछ नहीं थे तब जोश ने मुझे कहा ‘अगर हम ग्रैमी समारोह में जाएंगे और अगर हमने ग्रैमी जीता तो हम ऐसे ही उसे लेंगे।''

Share it
Top