अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आव्रजन प्रतिबंध पर प्रियंका चोपडा भी बरसी 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   3 Feb 2017 7:23 PM GMT

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आव्रजन प्रतिबंध पर प्रियंका चोपडा भी बरसी फिल्म अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा।

लॉस एंजिलिस (भाषा)। हॉलीवुड के शीर्ष अभिनेत्रियों अभिनेताओं जेनिफर लॉरेंस, एश्टन कटशर, एंजलिना जोली, जॉन लेजेंड और अन्य लोगों के साथ-साथ प्रियंका चोपडा (34 वर्ष) ने भी राष्ट्रपति डोनाल्ड की ओर से आव्रजन पर लगाए गए अस्थाई प्रतिबंध पर उनकी आलोचना की है और कहा, ‘‘इसने मुझे बहुत प्रभावित किया है।''

ट्रम्प ने पिछले शुक्रवार को एक शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर कर 120 दिनों के लिए अमेरिका में शरणार्थियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया जबकि सीरियाई शरणार्थियों के प्रवेश पर अनिश्चितकाल के लिए प्रतिबंध लगा दिया। इस आदेश में मुसलमान बहुल देशों ईरान, इराक, लीबिया, सोमालिया, सूडान, सीरिया और यमन से आने वाले नागरिकों का 90 दिनों के लिए अमेरिका में प्रवेश वर्जित कर दिया गया।

अभिनेत्री प्रियंका चोपडा और यूनिसेफ की गुडविल एम्बेसडर ने लिंक्डईन पर डाले गए एक भावनात्मक पोस्ट में लिखा है, ‘‘एक वैश्विक नागरिक होने के नाते इसने मुझे बहुत प्रभावित किया है. सभी ‘प्रतिबंधित' देश ऐसी जगह हैं जहां यूनिसेफ का बहुत सारा काम चल रहा है, जहां बच्चे सबसे ज्यादा तकलीफें झेल रहे हैं।'' उन्होंने अन्य लोगों से अपील किया कि वे इस प्रतिबंध के खिलाफ बोलें।

हॉलीवुड आइकन एंजलिना जोली ने भी ट्रम्प के कदम की आलोचना करते हुए कहा कि शरणार्थियों के लिए दरवाजे बंद करने या उनके साथ भेदभाव करने से अमेरिका सुरक्षित नहीं बनेगा। वर्ष 2012 से ही शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र की उच्चायुक्त जोली ने न्यूयॉर्क टाइम्स के लिए लिखे संपादकीय में कहा है कि शरणार्थी नीतियां तथ्य पर आधारित होनी चाहिए डर पर नहीं क्योंकि ऐसे लोग ‘‘पुरुष, महिलाएं और बच्चे युद्ध की त्रासदी में फंसे हुए हैं'' और वे खुद आतंकवाद के पीड़ित हैं। ट्रम्प का नाम लिए बगैर उन्होंने लिखा है कि नए फैसले से दुनियाभर में अमेरिका के मित्रों को सदमा पहुंचा है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top