पद्मावती मामला गरम : यूपी में रिलीज पर अलर्ट, मुम्बई में भंसाली को सुरक्षा, जयपुर में करणी सेना की धमकी

पद्मावती मामला गरम : यूपी में रिलीज पर अलर्ट, मुम्बई में भंसाली को सुरक्षा, जयपुर में करणी सेना की धमकीपद्मावती ।

लखनऊ/जयपुर/मुम्बई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में 'पद्मावती' फिल्म की रिलीज को लेकर पुलिस सतर्क हो गई है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के मुताबिक कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। वहीं महाराष्ट्र सरकार ने एहतियात के तौर पर फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराई है। उधर करणी सेना ने धमकी देते हुए कहा कि अगर फिल्म पद्मावती को परदे पर उतारा गया तो एक दिसम्बर को देश व्यापारी बंद का आयोजन किया जाएगा।

इस संबंध में प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार का कहना है कि फिल्म रिलीज को लेकर पुलिस की तैयारी पुख्ता है।

फिल्म 'पद्मावती' की रिलीज को लेकर बुधवार को पुलिस महानिदेशक मुख्यालय में एक बैठक हुई। इसमें सुरक्षा को लेकर तमाम रणनीति पर विचार किया गया।

इस फिल्म की रिलीज के खिलाफ प्रदेश के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। भाजपा सांसद सतीश गौतम ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर फिल्म पर रोक लगाने की मांग की है।

भंसाली को पुलिस सुरक्षा मिली

फिल्म 'पद्मावती' की रिलीज को लेकर हो रहे विरोध और मिल रही धमकियों के मद्देनजर महाराष्ट्र सरकार ने एहतियात के तौर पर फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराई है। उन्हें किस स्तर की सुरक्षा प्रदान किया गया है, यह अभी स्पष्ट नहीं है। भंसाली ने अभी तक इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं की है।

भंसाली को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए 'इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन' ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का आभार जताया है। फिल्म उद्योग की तरफ से फिल्मकार अशोक पंडित ने कहा, "हमारे प्रतिष्ठित सदस्य को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने पर आभार व्यक्त करने के लिए हमारे पास शब्द नहीं हैं।"

अशोक ने राज्य सरकार से फिल्म की रिलीज में मदद करने का भी आग्रह किया। भंसाली पर राजपूत करणी सेना और कुछ अन्य हिंदू सगंठन फिल्म 'पद्मावती' में इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश करने का आरोप लगाते हुए इसकी रिलीज का विरोध कर रहे हैं।

पद्मावती को परदे पर उताया गया तो एक दिसम्बर को देशव्यापी बंद : करणी सेना

जयपुर में करणी सेना ने आज कहा कि यदि फिल्म पद्मावती को परदे पर उतारा गया तो एक दिसम्बर को देश व्यापारी बंद का आयोजन किया जाएगा। करणी सेना के संस्थापक लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा कि फिल्म के विरोध ना केवल राजपूत समाज अथवा हिन्दू संगठन कर रहें है, बल्कि मुस्लिम नेताओं ने भी इसका विरोध किया है. पूरे देश में फिल्म को लेकर असंतोष है।

उन्होंने प्रधानमंत्री से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग करते हुए कहा कि चलचित्र अधिनियम के प्रावधान के तहत केंद्र सरकार के पास फिल्म को परदे पर उतरने से तीन माह तक रोकने का अधिकार है और एक दिसम्बर को परदे पर उतरने वाली फिल्म पद्मावती पर भी इस प्रावधान का लागू किया जाना चाहिए।

कालवी ने संवाददाताओं से कहा, यदि फिल्म परदे पर उतरती है तो हमने एक दिसम्बर को देशव्यापी बंद का आहृवान किया है, हमें देश की सभी जातियों और समुदायों का समर्थन है। हमलोग गुरुग्राम, पटना और भोपाल में रैलियों और जनसभाओं का आयोजन करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को इस मामलें में हस्तक्षेप करना चाहिए, केंद्र सरकार को चल चित्र अधिनियम के प्रावधानों के तहत फिल्म को परदे पर उतरने से रोकना चाहिए, इसके लिए सरकार को कदम उठाना चाहिए।

फिल्म पद्मावती में रानी पद्मावती की भूमिका निभा रही कलाकार दीपिका पादुकोण के फिल्म को रिलीज होने से नहीं रोकने वाले बयान पर कालवी ने कहा कि रानी पद्मावती की छवि को धूमिल करने का कोई प्रयास बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सिनेमा घर एसोशियशन और फिल्म वितरकों ने प्रदेश में फिल्म को परदे पर उतारने से मना कर दिया है। राजनीतिक पार्टियों के नेताओं, सामाजिक संगठनों ने भी इस मांग का समर्थन किया है कि फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों के छेड़छाड़ नहीं की जा सकती।

कालवी ने कहा कि फिल्म निर्माता ने सेंसर बोर्ड के स्वीकृति से पूर्व फिल्म के प्री स्क्रीनिंग का भरोसा दिया था। उन्होंने राजपूत समाज को बिना विश्वास में लिए फिल्म का प्रोमो और गाने को रिलीज कर दिया।

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्होंने कहा कि अब सेना किसी प्रकार के प्री स्क्रीनिंग की मांग नहीं कर रही है लेकिन फिल्म पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने की मांग कर रही है, क्योंकि फिल्म निर्माता ने धोखा दिया है।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top