एक गांव में धान के खेत में पुआल से बने थिएटर में दिखाई गई अंतरराष्ट्रीय फिल्में  

एक गांव में धान के खेत में पुआल से बने थिएटर में दिखाई गई अंतरराष्ट्रीय फिल्में  असम अंतरराष्ट्रीय ग्रामीण फिल्म महोत्सव 2017 । साभार टिवटर हैंडिल अब्दुल गनी

मेलेंग (असम) (भाषा)। यहां के एक दूर-दराज के गांव में धान के एक खेत में बनाए गए अस्थायी ऑडोटोरियम में एक अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है, जिसका लक्ष्य गुणवत्तापूर्ण सिनेमा को ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंचाने का है।

असम अंतरराष्ट्रीय ग्रामीण फिल्म महोत्सव (एआईआरएफएफ) के पहले संस्करण में दर्शकों को दुनिया की कुछ बेहतरीन फिल्में देखने को मिलीं। कार्यक्रम का आयोजन स्थल गुवाहाटी से 320 किलोमीटर पूर्व और जोरहाट शहर से करीब 25 किलोमीटर दूर मेलेंग चाय बगान इलाके के फेसुअल गांव में किया गया है।

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

असम फिल्म सोसाइटी (एएफएस) ने इस चार दिवसीय महोत्सव का आयोजन किया। जिसमें ग्रामीणों को कुछ बेहतरीन पुरानी फिल्मों के साथ साथ नई क्षेत्रीय फिल्में भी दिखायी गयीं। इस महोत्सव का शुभारंभ 23 दिसंबर को हुआ।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

यह पढ़ें पवन ऊर्जा क्षेत्र में लगी देश की सबसे सस्ती बोली ने लौटाए वायु ऊर्जा कंपनियों के अच्छे दिन

यह पढ़ें तस्वीरों में देखिए : किसानों के साथ बिताया एक दिन

यह पढ़ें जज्बे को सलाम : 98 वर्ष के राजकुमार ने हासिल की एमए इकोनॉमिक्स की डिग्री

Share it
Top