मृत्यु कभी सुखद नहीं हो सकती : अमिताभ बच्चन

मृत्यु कभी सुखद नहीं हो सकती : अमिताभ बच्चनमहानायक अमिताभ बच्चन।

मुंबई (आईएएनएस)। महानायक अमिताभ बच्चन ने अभिनेत्री रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि मृत्यु कभी सुखद नहीं हो सकती और इसके बाद होने वाले दुख को मापा नहीं जा सकता।

अमिताभ ने पत्नी जया बच्चन, बेटे अभिषेक बच्चन और बहू ऐश्वर्या राय बच्चन के साथ बुधवार को जुहू के इस्कॉन मंदिर में मुखर्जी के लिए आयोजित प्रार्थना सभा में भाग लिया।

दिग्गज अभिनेता ने कहा, "एक सहकर्मी ने अपने पिता को खो दिया है। हमें उनके दुख में दुख होता है और ऐसे समय में मेरे पिता के शब्द मुझे याद आते हैं।"

उन्होंने कहा, "एक दोस्त कुछ देर रहने के बाद चला जाता है। एक रिश्तेदार छुट्टियों में आता है और चला जाता है और अब दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में बसे बच्चे आते हैं और चले जाते हैं लेकिन जब वे अपने स्थायी निवास, स्वर्ग चले जाते हैं तो असीम दुख होता है।'

उन्होंने कहा, "हम केवल दुख की इस घड़ी में खड़े हो सकते हैं और प्रार्थना कर सकते हैं, लेकिन जो व्यक्तिगत रूप से पीड़ित हैं, उनका दर्द कभी खत्म नहीं होता।"

राम मुखर्जी का रविवार को निधन हो गया था। वह 84 वर्ष के थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी कृष्णा, बेटी रानी और बेटा राजा हैं।

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राम मुंबई के फिल्मालय स्टूडियो के संस्थापकों में से एक थे। उनकी प्रसिद्ध फिल्में 'हम हिन्दुस्तानी' और 'लीडर' हैं और वर्ष 1990 में उन्होंने बांग्ला फिल्म 'बियेर फूल' में रानी को भी लॉन्च किया था।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top