वीरेंद्र सहवाग गुरमेहर के खिलाफ नहीं तो मैं अपने कड़े शब्द वापस लेता हूं : जावेद अख्तर  

वीरेंद्र सहवाग गुरमेहर के खिलाफ नहीं तो मैं अपने कड़े शब्द वापस लेता हूं : जावेद अख्तर  जावेद अख्तर लेखक कवि व राज्यसभा के पूर्व सदस्य।

मुंबई (भाषा)। दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा गुरमेहर कौर मामले में पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग के खिलाफ कठोर टिप्पणी करने वाले गीतकार जावेद अख्तर ने कहा है कि वह सहवाग पर की गई अपनी कड़ी टिप्पणी वापस लेते हैं। गुरमेहर कौर पर सहवाग के ट्वीट के संबंध में जावेद अख्तर ने उनकी ‘कड़ेे' शब्दों में निंदा की थी। अब सहवाग ने अपने उस ट्वीट पर सफाई दे दी है।

जावेद अख्तर ने ट्वीट किया, ‘‘ वीरेंद्र सहवाग जो बेशक एक महान खिलाड़ी हैं उन्होंने अपनी सफाई दी है कि वह एक हास्यापद टिप्पणी थी और गुरमेहर के खिलाफ नहीं तो मैं अपने कड़े शब्द वापस लेता हूं।''

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

गीतकार ने इससे पहले सहवाग को ‘एक अनपढ़ खिलाड़ी' बताया था। हालांकि गीतकार ने क्रिकेटर गौतम गंभीर के समझदारी भरे ट्वीट की सराहना भी की, जिसमें गंभीर ने कहा था कि हाल ही में हुए वाकयों से वह हताश हैं।

सहवाग ने गुरमेहर की ‘मैं एबीवीपी से नहीं डरती' संबंधी टिप्पणी को लेकर ट्वीट किया था। चौतरफा आलोचना के बाद सहवाग ने सिलसिलेवार ट्वीट कर सफाई दी कि उनके ट्वीट का मकसद किसी के विचारों का मजाक उडाना नहीं था बल्कि यह एक हास्यापद टिप्पणी थी।

शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर (20 वर्ष) ने रामजस कॉलेज में हुई हिंसा के बाद एक अभियान शुरू किया था। वह दिल्ली विश्वविद्यालय में लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा हैं।

Share it
Top