‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ में मेरी भूमिका राजनीतिक नजरिया नहीं दर्शाती: अली फज़ल

‘विक्टोरिया एंड अब्दुल’ में मेरी भूमिका राजनीतिक नजरिया नहीं दर्शाती: अली फज़लअली फज़ल, अभिनेता

मुंबई, (आईएएनएस)। अभिनेता अली फजल का कहना है कि फिल्म 'विक्टोरिया एंड अब्दुल' में उनके किरदार को महारानी विक्टोरिया और उनके वफादार भरोसेमंद सेवक अब्दुल करीम के बीच अपरिभाष्य दोस्ती के तौर पर पेश किया गया है और इससे पहले ऐसा किरदार नहीं गढ़ा गया है। इसमें करीम उपनिवेशवाद पर अपने राजनीतिक विचारों का प्रतिनिधित्व नहीं करता है।

अभिनेता इस बात से इनकार नहीं करते कि कुछ लोग उन्हें ब्रिटिश कठपुतली के रूप में देखेंगे। उन्होंने कहा, ‘लोग जो सोचना चाहते हैं हम उन्हें सोचने से रोक नहीं सकते। मैं अपनी भूमिका को उपनिवेशवाद पर राजनीतिक नजरिया पेश करने के तौर पर नहीं देखता। मैं सिर्फ ऐसे शख्स की भूमिका निभा रहा हूं जो अद्वितीय, शक्तिशाली और प्रेरक था।’

अभिनेता ने कहा कि उन्हें जूडी डेंच के साथ लगभग हर दृश्य में काम करने का मौका मिला और ऐसा मौका बहुत कम लोगों को मिल पाता है। हाल में अली फैजल इंग्लैंड से फिल्म की शूटिंग करके खुशनुमा यादों के साथ वापस लौटे हैं। अभिनेता ने फिल्म के निर्देशक स्टीफन फ्रेयर्स को बेहतरीन निर्देशक बताया।

वह जूडी डेंच, माइकल गैमबन, सिमोन कालो और एडी इजार्ड जैसे दिग्गज कलाकारों के साथ काम करके खुश हैं। स्टीफन ने अली की तारीफ करते हुए कहा कि अभिनेता ने उन्हें शशि कपूर की याद दिला दी। निर्देशक ने फिल्म 'सैमी एंड रोजी गेट लेड' में शशि कपूर के साथ काम किया है। अभिनेता फिल्म 'फुकरे-2' की शूटिंग दिल्ली में कर रहे हैं।

Share it
Top