मेरी कहानियों पर सबसे अधिक स्वार्थी लोग ध्यान देते हैं : नीलेश मिसरा

मेरी कहानियों पर सबसे अधिक स्वार्थी लोग ध्यान देते हैं : नीलेश मिसरालेखक, बॉलीवुड निर्देशक, पटकथा लेखक, गीतकार और फोटोग्राफर नीलेश मिसरा।

नई दिल्ली (आईएएनएस)। लेखक, निर्देशक, पटकथा लेखक, गीतकार और फोटोग्राफर नीलेश मिसरा का कहना है कि उन्हें इस बात का अहसास हुआ है कि भारत के लोग बहुत भावुक हैं, जिसे वे छिपाने की कोशिश करते हैं, लेकिन कुछ कहानियां उन्हें पूरी तरह झकझोर देती हैं और उन्हें इस ढकोसले से बाहर निकालने में सफल होती हैं।

मनोरंजन से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

नीलेश डिजिटल प्लेटफार्म 'सावन' पर अपने शो 'किस्सों का कोना' और 'टाइम मशीन विद नीलेश मिसरा' में कहानियां सुनाते रहे हैं। नीलेश मिसरा का कहना है कि उनकी कहानी पर सबसे अधिक स्वार्थी लोग ध्यान देते हैं।

उन्होंने कहा, "हम अच्छे विषय पर कहानी बनाने के लिए बाध्य हैं। इसके अलावा हमने कुछ नहीं किया, किसी गिमिक की कोशिश नहीं की। इसलिए ऐसा करने के दौरान हमने पाया कि अधिकांश कुटिल लोग हमारे कार्यक्रम की ओर आकर्षित हुए। ये ऐसे लोग हैं, जो भावुक नहीं हैं। जब हमने दूसरा सत्र शुरू किया तो बहुत से लोगों ने लिखा कि उनकी कहानियां उन्हें किस तरह भावुक करती हैं और उनमें से एक ने धन्यवाद देते हुए कहा, 'मैं अपनी कार में फिर से रो सकता हूं' इसलिए मैंने महसूस किया कि भारत के लोग रोने वाले हैं।"

Share it
Top