बड़े पर्दे पर आए पूर्वोत्तर की खूबसूरती: शुजात सौदागर

बड़े पर्दे पर आए पूर्वोत्तर की खूबसूरती: शुजात सौदागर‘रॉक ऑन 2’ शायद पहली हिंदी फिल्म है, जिसकी शूटिंग पूर्वोत्तर में हुई है।

नई दिल्ली (आईएएनएस)। 'रॉक ऑन' का सफर जो साल 2008 में शुरू हुआ था, 2016 में दूसरे पड़ाव पर पहुंच गया है। 'रॉक ऑन 2' शायद पहली हिंदी फिल्म है, जिसकी शूटिंग पूर्वोत्तर में हुई है।

निर्देशक शुजात सौदागर अन्य निर्देशकों से भी पूर्वोत्तर में शूटिंग करने की अपील कर रहे हैं। इस फिल्म पर पिछले तीन साल से काम कर रहे शुजात ने रिलीज के बाद लंबी छुट्टी पर जाने का फैसला लिया है। शुजात सौदागर ने फिल्म से जुड़ने के बारे में अपने अनुभव साझा किए।

यह पूछने पर कि 'रॉक ऑन 2' के साथ सफर की शुरुआत कैसे हुई? उन्होंने कहा, ''मैं 2011-2012 'डॉन-2' में सहायक निर्देशक रह चुका हूं, लेकिन एक निर्देशक के रूप में यह मेरी पहली फिल्म है। एक दिन रितेश सिधवानी ने मुझे फोन कर 'रॉक ऑन 2' का निर्देशन करने का आग्रह किया, जिसे मैं मना नहीं कर सका और इस तरह यह फिल्म मेरी झोली में आ गई।''

यह फिल्म पिछली फिल्म से कितनी अलग है? इस पर वह कहते हैं, ''आठ साल बाद मैजिक बैंड की वापसी हुई है। यह फिल्म पिछली फिल्म की कहानी को आगे बढ़ाती है। कहानी के किरदार इन वर्षो में काफी आगे बढ़ गए हैं। वह कॉलेज का पुराना दौर था, लेकिन आज वे परिपक्व हो गए हैं। किरदारों की उम्र बढ़ गई है, समय बदल गया है और उसी के अनुरूप सबकी अलग-अलग दिक्कतें हैं।'' उन्होंने बात आगे बढ़ाई, ''रॉक ऑन' में मस्ती ज्यादा थी, लेकिन अब उनमें परिपक्वता आ गई है। आपको पिछली फिल्म की तरह मेरी 'लांड्री का बिल' जैसे गाने इस बार सुनने को नहीं मिले, इसका कारण यही है कि हमने कहानी के हिसाब से गाने लिखे हैं।''

यह पूछे जाने पर कि पिछली फिल्म के मुकाबले इस फिल्म के गाने उतने लोकप्रिय नहीं हुए, शुजात ने कहा, ''मैं आपकी बात से सहमत हूं, लेकिन आपको याद होगा कि 'रॉक ऑन' रिलीज होने के बाद उसके गाने हिट हुए थे। पहले तो हर तरफ से आलोचना ही मिल रही थी कि ये किस तरह के गाने हैं। उम्मीद है कि इस बार भी लोग फिल्म देखने के बाद इसके गाने पसंद करेंगे। मुझे लगता है, फिल्म देखने के बाद ही दर्शक इन गानों को समझ पाएंगे।''

'रॉक ऑन 2' शायद पहली हिंदी फिल्म है, जिसकी पूर्वोत्तर में शूटिंग हुई है। यह पूछे जाने पर कि पूर्वोत्तर में शूटिंग का फैसला क्यों लिया गया? इस पर शुजात कहते हैं, ''यह कहानी की मांग थी। फिल्म में फरहान का किरदार मुंबई छोड़कर मेघालय शिफ्ट हो गया है। फिल्म की ज्यादातर शूटिंग शिलांग में हुई है, जो रॉक संगीत का गढ़ भी है। यहां शूटिंग करने का अनुभव बेहतरीन रहा, लोगों का अपार प्यार मिला। मैं तो सभी निर्देशकों से अपील भी करता हूं कि पूर्वोत्तर में शूटिंग जरूर करें।''

शुजात इस फिल्म पर पिछले तीन साल से काम कर रहे हैं और अब उन्हें फिल्म की रिलीज के बाद एक लंबी छुट्टी की दरकार है। वह कहते हैं, ''हम पिछले तीन साल से इस फिल्म पर काम कर रहे हैं, एक बार फिल्म रिलीज हो जाए तो लंबी छुट्टी पर जाऊंगा। उसके बाद फिर नए जोश से काम करना है। मैं लीक से हटकर फिल्में बनाने में विश्वास रखता हूं।''

फिल्म में सिर्फ फरहान अख्तर ने ही नहीं, बल्कि श्रद्धा कपूर ने भी चार गाने गाए हैं। यह पूछे जाने पर कि श्रद्धा इस कसौटी पर कितनी खरी उतरीं, शुजात ने कहा, ''फिल्म में उनके किरदार की मांग थी कि एक ऐसी लड़की हो जो अभिनय तो करे ही, अपने गाने भी खुद ही गाए। इसके लिए कई स्क्रीन टेस्ट लिए गए। इस दौरान श्रद्धा रितेश को फिल्म में काम करने की अपनी इच्छा जता चुकी थी, रितेश ने मुझे श्रद्धा से मिलने के लिए कहा। श्रद्धा के स्क्रीन टेस्ट लिए गए और उनकी आवाज सुनकर तो हम दंग ही रह गए। वह कमाल का गाती हैं।''

'रॉक ऑन' का सीक्वल आठ साल बाद रिलीज होने जा रहा है, अब क्या 'रॉक ऑन 3' के बारे में भी कुछ सोचा है? इस सवाल पर शुजात कहते हैं, ''पहले, इसे रिलीज हो जाने दीजिए। इस बारे में हमने फिलहाल कुछ नहीं सोचा है, लेकिन हां, इतना जरूर है 'रॉक ऑन' के 'मैजिक बैंड' की कहानी इसी फिल्म के साथ खत्म हो जाएगी।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top