एक गाने की गलत लाइन गाने से सोनू की जिंदगी में आई ये बंगाली बाला

एक गाने की गलत लाइन गाने से सोनू की जिंदगी में आई ये बंगाली बालासोनू निगम।

लखनऊ। 'हर पल यहां जी भर जियो, जो है समां कल हो न हो'...इस गाने के बोल शायद उनकी आवाज के लिये ही लिखे गये थे। बॉलीवुड के हरदिल अजीज गायक सोनू निगम आज 44 वर्ष के हो चुके हैं। 30 जुलाई 1973 को फरीदाबाद में जन्में सोनू निगम की पहचान रोमांटिक सिंगर के रूप में भी है। वैसे सोनू निगम को चाहने वालों की एक लम्बी लिस्ट है। लेकिन सोनू निगम का दिल जिस पर आया उनका नाम है मधुरिमा निगम।

ये भी पढ़ें- नीलेश मिसरा की आवाज में ‘शुभ मंगल सावधान’ का टीजर रिलीज, जानें बंदर के इंसान बनने की दास्तान

मधुरिमा एक बंगाली महिला हैं। सोनू निगम और मधुरिमा की सगाई वैलेंटाइन डे के दिन यानि 14 फरवरी 2002 को हुई थी और अगले ही दिन यानि 15 फरवरी को दोनों विवाह के बंधन में बंध गये।

इन दोनों के करीब आने का एक वाकया है इन दोनों की पहली मुलाकात 24 दिसम्बर 1995 को कोलकाता में हुई थी उसके बाद अगली मुलाकात हुई थी उसके बाद 27 दिसम्बर को फिर मुलाकात हुई। उस दिन मधुरिमा सोनू का इंटरव्यू लेने आई थी। इंटरव्यू के दौरान कोई बंगाली गाना था उस गाने में सोनू को 'एैक दिन' बोलना था लेकिन गलती से सोनू 'एक दिन' बोल गये। इस गलती पर मधुरिमा हंसने लगीं। बस उनकी हंसी से शुरू हो गया दोनों के प्यार का सफर।

ये भी पढ़ें- “वो ग़ज़ल मुग़ल बादशाह की नहीं, मेरे दादा की थी”

कम्पोजिंग में आजमाया हाथ

सोनू निगम ने सोलो कम्पोजर के तौर पर फिल्म 'सिंह साहब द ग्रेट' का टाइटल सांग कम्पोज किया। उन्होंने फिल्म 'सुपर से उपर' और 'जल' के भी संगीत को कम्पोज किया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top